कटघोरा में मिले सात पॉजीटिव, बिलासपुर में हड़कंप, तालापारा निवासी 22 परिजनों को होम क्वरंटाइन

पूरा तालापारा क्षेत्र संवेदनशील पुलिस बल के साथ सर्विलांस की तैयारी, नागपुर से लौटी महिला और उसके बेटे को सिम्स किया गया शिफ्ट

By: yogesh vishwakarma

Published: 10 Apr 2020, 10:58 AM IST

बिलासपुर. कटघोरा में अचानक 7 कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद पूरे प्रदेश में हड़कंप की स्थिति है। इसका असर बिलासपुर में भी देखा गया। तालापारा इलाके के 22 परिजनों को होम क्वरेंटाइन में रहने निर्देश दिया गया है। इसके बाद अब स्वास्थ्य महकमा पुलिस बल के साथ पूरे तालापारा में सर्विलांस के लिए अभियान चलाने की तैयारी कर रहा है। वहीं बुधवार को नागपुर से लौटी महिला और उसके बेटे को गुरुवार को सिम्स में शिफ्ट कर दिया गया। हलांकि सिम्स में भर्र्ती तालापारा के ही संदिग्ध मां बेटे के अस्पताल से भागने की खबर शाम को आई लेकिन इसे सिम्स प्रशासन ने अफवाह बताया है। वहीं सिम्स में भर्ती नर्स के रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है।

कोरबा के कटघोरा में गुरुवार को 7 नए पाजिटिव केस आने से स्वास्थ्य महकमा और जिला प्रशासन सकते में आ गया है। इन आठों मरीजों के तालापारा के 22 रिश्तेदारों को होम क्वरांटाइन में रहने निर्देश दिया गया है। सीएमएचओ डॉ प्रमोद महाजन ने बताया कि कटघोरा में जो 7 पॉजिटिव केस पाए गए हैं उनके संबंध तालापारा से हैं यहां उनके रिश्तेदार रहते हैं, इनसे उनका इस बीच संपर्क हुआ है या नहीं यह कंफर्म नहीं है इसलिए एहतियात के तौर पर उनसे संबंधित 21 लोगों को होम क्वारंटाइन पर रहने कहा गया है।

वहीं कोरबा जिले में ही एक व्यक्ति के पॉजिटव होने की खबर पर यहां तालापारा में रहने वाली उसकी बहू को भी होम क्वारंटाइन पर रहने कहा गया है, इनके भी संपर्क की पुष्टि नहीं हुई है लेकिन एहतियात के तौर पर यह कदम उठाया गया है।

तालपारा को सर्विलांस कराया जाएगा

जिला सर्विलेंस अफसर डॉ एसके लाल के मुताबिक तालापारा में महाराष्ट्र से आई महिला और उसके बेटे और इसके बाद कोरबा व कटघोरा में मिले लोगों के यहां रिश्तेदार होने की बात सामने आने के बाद यह क्षेत्र संवेदनशील हो गया है। पूरे तालापारा क्षेत्र को पुलिस बल के साथ सर्विलांस कराया जाएगा एक-एक घर में तस्दीक कराई जाएगी कि किसी को सर्दी, खांसी तो नहीं और क्षेत्र में कोई बाहर से तो नहीं आया।

मां बेटे के सिम्स से भागने को बताया अफवाह

महाराष्ट्र से आई महिला और उसके बेटे को संदेह और मोहल्लेवासियों के आक्रोश को देखते हुए सिम्स में भर्ती कराया गया है। शाम इन दोनों के अस्पताल से गायब होने की खबर आई परंतु सिम्स की डिप्टी मेडिकल सुपरिटेंडेंट ने बताया कि अभी वार्ड में उनकी डॉ माधुरी से चर्चा हुई है दोनो वार्ड में उनके गायब होने की खबर गलत है। दोनों की हालत सामान्य है।

नर्स की रिपोर्ट का इंतजार

सिम्स के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती नर्स का सेंपल टेस्ट के लिए एम्स भेजा गया है अभी उसकी रिपोर्ट नहीं आई है उसकी हालत सामान्य बताई जा रही है।

yogesh vishwakarma Chief Reporter
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned