शाह देंगे टिप्स, तैयारी में जुटी कोर कमेटी

शाह देंगे टिप्स, तैयारी में जुटी कोर कमेटी

Amil Shrivas | Publish: Sep, 11 2018 11:22:02 AM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

कर्नाटक की तर्ज पर: पन्ना प्रमुख बनाने की कवायद तेज

बिलासपुर. कर्नाटक और गुजरात में मिली सफलता के बाद भाजपा छत्तीसगढ़ में भी पन्ना प्रमुखों की नियुक्ति पर जोर दे रही है। अक्टूबर माह के प्रथम सप्ताह में बिलासपुर में सरगुजा और बिलासपुर संभाग के पन्ना प्रमुखों के बड़े सम्मेलन की तैयारी है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह नवनियुक्त पन्ना प्रमुख और बूथ पदाधिकारियों को संबोधित कर टिप्स देंगे। कार्यक्रम की सूचना मिलने के बाद नगरीय प्रशासन मंत्री के समर्थक और कोर कमेटी के सदस्य तैयारी में जुट गए हैं।
अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का बिलासपुर आगमन हो रहा है। वे यहां बिलासपुर और सरगुजा संभाग के विधानसभाओं के पन्ना प्रमुखों, बूथ संयोजक, सहसंयोजक और प्रभारियों को संबोधित कर चुनावी टिप्स देगें। वहीं दूसरे चरण में दोनों संभाग के पार्टी पदाधिकारियों को संबोधित करेंगे। नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल ने राष्ट्रीय अध्यक्ष के आगमन की सूचना मिलने के बाद मंडल, जोन पदाधिकारियों और अपने कोर कमेटी के सदस्यों की बैठक ली। पन्ना प्रमुखों की नियुक्ति पर चल रहे काम और प्रगति देखी। साथ ही बड़े आयोजन के लिए तैयारी करने के निर्देश दिए हैं। बताया जाता है कि दो बड़े सम्मेलनों में 15 से 20 हजार प्रभारियों व पदाधिकारियों का जमाव होगा। इस हिसाब से स्थल और तैयारी करने के निर्देश दिए गए हैं। नगरीय प्रशासन मंत्री ने सभी को जिम्मेदारी देकर आयोजन की रूपरेखा तय कर दी है। इस संबंध में जल्द ही दूसरी बैठक आयोजित कर कार्यक्रम की तैयारी को अंतिम रूप दिया जाना है।

मंडल और जोन प्रभारी सकते में
नगरीय प्रशासन मंत्री ने 10 दिन पूर्व आयोजित सम्मेलनों में जोन व मंडल प्रभारियों को अपने-अपने क्षेत्र में पन्ना प्रभारियों की नियुक्ति कर 15 दिन के अंदर सूची प्रस्तुत करने के निर्देश दिए थे। राष्ट्रीय अध्यक्ष के सम्मेलन का कार्यक्रम आने के बाद मंडल व जोन प्रभारी सकते में आ गए हैं। रविवार को सभी पदाधिकारियों ने अपने-अपने क्षेत्र में बैठक आयोजित कर पन्ना प्रमुख बनाने का काम शुरू कर दिया है।

ये है फंडा लोकसभा की तैयारी का
बताया जाता है कि भारतीय जनता पार्टी विधानसभा के साथ-साथ आगामी लोकसभा चुनाव के लिए भी तैयारी कर रही है। विपक्षी पार्टियों के एकजुट होकर भाजपा को हराने के फार्मूले के तोड़ के लिए राष्ट्रीय नेतृत्व के निर्देश पर पन्ना प्रमुखों की नियुक्ति का फंडा तय किया गया है।

Ad Block is Banned