15 शिक्षकों की अनिवार्य सेवानिवृत्ति पर दिया धरना

15 शिक्षकों की अनिवार्य सेवानिवृत्ति पर दिया धरना

Anil Kumar Srivas | Publish: Sep, 06 2018 04:17:15 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

प्रदर्शन: छग शिक्षक संघ ने जताई नाराजगी

बिलासपुर . शिक्षकों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने के पहले परीक्षण नहीं किया गया। बीईओ, डीईओ के प्रस्ताव को कलेक्टर ने सीधे शासन को भेज दिया गया। जिले में 15 शिक्षकों को अनिवार्य सेवानिवृत्त दे दी गई। इनमें तखतपुर ब्लॉक से 12 शिक्षक शामिल हैं। प्रशासन की इस मनमानी के खिलाफ छत्तीसगढ़ कर्मचारी संघ ने शिक्षक दिवस पर बुधवार को सीपत रोड खेल स्टेडियम के सामने धरना प्रदर्शन किया। छग कर्मचारी संघ ने आरोप लगाया कि पूर्ववर्ती जिला शिक्षा अधिकारी हेमंत उपाध्याय और तखतपुर, बिल्हा ,कोटा एवं मस्तूरी के बीईओ ने 15 शिक्षकों के खिलाफ पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर रिपोर्ट दी गई। बीईओ की इस रिपोर्ट को डीईओ ने बिना परीक्षण कराए सीधे कलेक्टर को भेज दिया गया। कलेक्टर ने राज्य शासन को रिपोर्ट देने के बाद इन्हे अनिवार्य सेवानिवृत्ति दे दिया गया। इसके विरोध में बुधवार को शिक्षक दिवस पर सीपत रोड खेल स्टेडियम के सामने शिक्षक संघ के सदस्यों ने धरना दिया।

सीएम के साथ शिक्षा सचिव को ज्ञापन
धरना आंदोलन के बाद छग शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष श्याममूरत कौशिक के नेतृत्व में सीएम एवं शिक्षा मंत्री शिक्षा सचिव के नाम सिटी मजिस्ट्रेट एआर टंडन को ज्ञापन सौंपा गया।

द जैन इंटरनेशनल स्कूल में भव्य समारोह
द जैन इंटरनेशनल स्कूल में शिक्षक दिवस समारोह पूर्वक सम्पन्न हुआ । कार्यक्रम का शुुभारंभ स्कूल की बोर्ड मेंबर निषीता अग्रवाल, आरुशी अग्रवाल एवं प्राचार्य एसबी जॉन द्वारा डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन के चित्र पर माल्यार्पण से हुआ। इसके बाद छात्र-छात्राओं द्वारा सभी शिक्षकों का अभिनन्दन किया गया। विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत इस सांस्कृतिक कार्यक्रम का संपूर्ण संयोजन स्कूल के विद्यार्थी संघ ने किया। द जैन इन्टरनेशनल स्कूल के सभी विद्यार्थियों ने शिक्षक दिवस का दिन शिक्षकों को समर्पित करते हुए छात्रों के विभिन्न समूह द्वारा प्रस्तुत गान एवं नृत्य ने उपस्थित छात्र-छात्राओं, शिक्षकों एवं दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया गया। इस अवसर पर विद्यार्थियों के द्वारा शिक्षकों के लिए विभिन्न खेल आयोजित किए गए। डायरेक्टर एकेडमिक एवं प्राचार्य एसवी जॉन ने कहा कि विद्यार्थियों की सफलता ही शिक्षकों की सफलता है अत: शिक्षकों को विद्यार्थियों की सफलता के लिए अपने कर्तव्य का पालन ईमानदारी से करना चाहिए, तभी एक स्वस्थ समाज का निर्माण हो सकता है। विद्यालय प्रबंधन ने शिक्षकों को सम्मानित करते हुए स्मृति चिन्ह भेंट किया गया ।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned