निगरानी में रखे गए कोरोना संदिग्ध युवक की मौत, प्रशासन पर लापरवाही बरतने के लग रहे आरोप

मुंगेली जिले के कोरेंटिन सेंटर में रह रहे एक युवक की तबीयत बिगड़ने के बाद अस्पताल ले जाने के दौरान मौत हो गई

By: Murari Soni

Published: 23 May 2020, 02:07 PM IST

बिलासपुर। मुंगेली जिले के कोरेंटिन सेंटर में रह रहे एक युवक की तबीयत बिगड़ने के बाद अस्पताल ले जाने के दौरान मौत हो गई । मुंगेली जिले के छीतापुर का 22 वर्षीय श्रमिक हैदराबाद से 15 दिन पहले लौटा था, जिसे छीतापुर के कोरेन्टीन सेंटर में रखा गया था । बताया जा रहा है कि इस दौरान उसकी तबीयत बिगड़ गई थी, जिसके बाद कोरेंटिन सेंटर का सचिव उसे अपने साथ पंढर भट्टा के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले गया था जहां चिकित्सक ने उसे दवा दी थी लेकिन इसके बाद भी शुक्रवार रात को उसकी तबीयत बहुत अधिक बिगड़ गई । जिसके बाद कई मर्तबा एंबुलेंस को फोन किया गया लेकिन मौके पर एंबुलेंस नहीं पहुंची जिससे घबराकर उसके ही कुछ साथी उसे ऑटो में लेकर आज मुंगेली जिला अस्पताल की ओर रवाना हो गए मगर रास्ते में ही युवक ने दम तोड़ दिया। हैरानी इस बात की है कि इस बीच बार-बार उसकी तबीयत बिगड़ने के बाद भी उसका सैंपल टेस्ट के लिए नहीं लिया गया था।

Show More
Murari Soni Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned