...तो क्या बाथरूम के पानी से पिलाई जा रही थी चाय , देखें विडियो

निरीक्षण में रेलवे अधिकारियों ने देखा कि पैंट्रीकार में खाने की रेट लिस्ट ही नहीं थी।

By: Amil Shrivas

Updated: 10 Jan 2019, 07:16 PM IST

बिलासपुर. स्टेशन निदेशक किशोर निखारे ने गुरुवार को हावड़़ा-अहमदाबाद ट्रेन के पैंट्रीकार का औचक निरीक्षण किया। जांच के दौरान मिली कई खामियंा मिली। आरआईसीटीसी ट्रेन मैनेजर और पेंट्रीकार मैनेजर को लगाई फटकार लगाई गई। निरीक्षण में रेलवे अधिकारियों ने देखा कि पैंट्रीकार में खाने की रेट लिस्ट ही नहीं थी।

मांगने पर फूड लाइसेंस भी नहीं दिखाया गया। खाना बनाने व चाय के लिए उपयोग किए जाने वाले पानी के बारे में पूछा गया कि पैंट्रीकार संचालकों ने बताया कि कोच में साफ पानी का उपयोग किया जाता है। जब अधिकारी ने कोच में रखे पानी के ड्रम देखे तो खाली पाए गए। आशंका जताई गई कि ट्रेन में खाना ट्रेन के बाथरूम में मौजूद गंदे पानी से बनाया जा रहा था। पूछताछ के बाद स्टेशन निदेशक ने पैंट्रीकार संचालक को जमकर फटकारा।

कई बार हो चुकी शिकायत : रेलवे पैंट्रीकार में साफ-सफाई को लेकर कई बार रेलवे प्रशासन से शिकायत हो चुकी है। लेकिन प्रशासन द्वारा कार्रवाई न करने के कारण पैंट्रीकार संचालकों के हौंसले बुलंद है। कई बार यात्रियों ने हंगामा कर अपने विरोध दर्ज कराया है। रेलवे प्रशासन छोटी-मोटी जुर्माना लगाकर अपनी खानापूर्ति कर लेता है।

Amil Shrivas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned