सवा करोड़ की रोड स्वीपिंग मशीन लगी दो वाहन ठप, चार माह बाद नाले की सफाई के लिए निकाली गई मिनी पोकलेन

Amil Shrivas

Publish: Feb, 15 2018 06:38:56 PM (IST)

Bilaspur, Chhattisgarh, India
सवा करोड़ की रोड स्वीपिंग मशीन लगी दो वाहन ठप, चार माह बाद नाले की सफाई के लिए निकाली गई मिनी पोकलेन

छह माह पूर्व खरीदी गई थी ६ मशीनें, एक बीमार, पंाच से कराई जा रही सफाई

बिलासपुर . ठप पड़ी सवा करोड़ की दो रोड स्वीपिंग मशीन के बाद अब निगम प्रशासन ने नाले-नालियों की सफाई के लिए खरीदी गई छह पोकलेन मशीन में से पांच को निकलवाना शुरू कर दिया। वहीं छठवीं मशीन छह माह में खड़े-खड़े बिगड़ गई जिसे मरम्मत के लिए भेजा गया है। नगरीय प्रशासन विभाग ने सभी १० नगर निगमों को सड़कों की सफाई के लिए रोड स्वीपिंग मशीन भेजी थी। दो रोड स्वीपिंग मशीन लगे वाहन यहां भी भेजी गई, जिसकी कीमत सवा करोड़ रुपए बताई जाती है। सीवरेज की बेतरतीब खुदाई से उधड़ी सड़क के कारण ये मशीनें पंप हाउस में ही खड़ी रह गईं। बाद में इन मशीनों को पुराने अरपा पुल से देवकीनंदन चौक और मशीन लगे दूसरे वाहन को नेहरू चौक से वीआईपी रोड तक चलाया गया लेकिन अब यहां भी खुदाई की गई मशीन को पंप हाउस में खड़ा कर दिया। सवा करोड़ के ये दोनों वाहन पंप हाउस में खड़े -खडे ही बीमार हो गए। निगम प्रशासन ने इन वाहनों की मरम्मत के लिए पहल की और एक वाहन को साढ़े सात लाख रुपए खर्च कर बनवाया गया। वहीं दूसरे मशीन की मरम्मत में १४-१५ लाख रुपए का अनुमानित खर्च आने की वजह से इस मशीन को उसके हालात पर छोड़ दिया गया। जिस मशीन को साढ़े सात लाख रुपए खर्च कर बनवाया गया वह सप्ताह भर भी नहीं चली और फिर खराब हो गई तब से दोनों वाहन पंप हाउस में ही धूल खाते अस्त-व्यस्त पड़े हैं।

छह माह पहले ही खरीदीं मशीन किसी काम की नहीं: निगम प्रशासन ने पूर्व की तरह इस साल भी चुनावी साल में सफाई व्यवस्था को दुरुस्त कराने के लिए करीब छह माह पूर्व नाले-नालियों की सफाई कराने ६ मिनी पोकलेन मशीन क्रय किया, ये मशीनें भी पंप हाउस में धूल खाते पड़ी रही। करीब तीन माह पूर्व इन मशीनों को नाले-नालियों की सफाई के लिए निकाला गया जिनमें से १ पोकलेन खराब हो गई। वहीं पांच पोकलेन मशीनों को जोन और वार्डवार रोटेशन के आधार पर सफाई के लिए निकाला जा रहा है। बुधवार को इस मिनी पोकलेन मशीन के माध्यम से लिंकरोड और बस स्टैंड इलाके के नाले-नालियों की सफाइ्र्र का कार्य कराया गया।

शिकायत पर सक्रिय हुआ निगम अमला: गौरतलब है कि पिछले दिनों बैठक में जोन प्रभारियों और पार्षदों तथा कार्यकर्ताओं द्वारा नाले-नालियों की सफाई न होने की शिकायत पर महापौर किशोर राय और निगम आयुक्त सौमिल रंजन चौबे ने चारों जोन के सभी वार्डों में रोटेशन बनाकर मशीन भेज सफाई कराने निर्देश दिए थे, इसी के मद्देनजर अब मिनी पोकलेन मशीनों को वार्डों में भेजकर सफाई का कार्य कराया जा रहा है।

दोनों रोड स्वीपिंग मशीन वाहन खराब है पंप हाउस में खड़ी है, नाले-नालियों की सफाई कराने के लिए करीब छह माह पूर्व खरीदी गई ६ मिनी पोकलेन मशीनों में से एक खराब पड़ी है जिसकी मरम्मत कराई जा रही है। वहीं महापौर और निगम आयुक्त के निर्देशानुसार ५ मिनी पोकलेन मशीनों को तय शेडयूल के तहत वार्डों में नाले-नालियों की सफाई के लिए भेजा जा रहा है।
डॉ ओंकार शर्मा, स्वास्थ्य अधिकारी नगर निगम बिलासपुर

1
Ad Block is Banned