115 किलो गांजा के साथ दो आरोपी हुए गिरफ्तार

Amil Shrivas

Publish: Sep, 17 2017 04:46:40 (IST)

Bilaspur, Chhattisgarh, India
115 किलो गांजा के साथ दो आरोपी हुए गिरफ्तार

पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार जेल भेज दिया है।

बिलासपुर. लाखों रुपए का गांजा लेकर यूपी जा रहे मार्शल चालक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनके पास से ११५ किलो गांजा मिला है। जिसे वे यूपी लेकर जा रहे थे। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर मामला कायम किया है। मामला बिल्हा थाना क्षेत्र का है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार की रात को पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि कुछ लोग भारी मात्रा में गांजा की तस्करी कर रहे हैं। सूचना मिलते ही पुलिस ने घेराबंदी कर दी। ग्राम अमसेना के पास रात में मार्शल क्रमांक यूपी-70-वाय-4127 को पुलिस ने जांच के लिए रुकवाया। पुलिस देखकर गाड़ी चालक भागने की कोशिश करने लगे। जिसे पुलिस ने ओव्हर टेक कर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने जांच में पाया कि राजेश अस्थाना पिता मुरारी लाल अस्थाना (35) मुबारकपुर यूपी व शिवा बोड़ो नायक पिता (24) डोंगा नायक कोरापुर उड़ीसा निवासी मार्शल में 115 किलो गांजा जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में लाखों रुपए कीमत आंकी गई है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार जेल भेज दिया है।

यूपी में खपाने की थी योजना : आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि उक्त गांजा को वह उड़ीसा से ला रहे थे तथा उसे यूपी में बेचना की योजना थी।
उड़ीसा से सारे देश में जाता हैं गांजा : सरकार द्वारा गांजा को प्रतिबंधित कर दिया गया है। फिर लोग चोरी-छिपे इसकी तस्करी करते हैं। पूरे देश में सबसे ज्यादा गांजा का उत्पाद उड़ीसा में होता है। गांजे के पौधे के लिए उड़ीसा का वातावरण उचित होने के कारण वहां घर-घर में गांजा की खेती की जाती है। जिसके कारण हर घर में गांजा आसानी से उपलब्ध हो जाता हैं। देश के अन्य राज्यों में गांजा तस्करी करने का सबसे सुविधाजनक यातायात साधन छत्तीसगढ़ में ही उपलब्ध हैं। इसलिए तस्कर कभी रेल मार्ग या फिर सड़क मार्ग से गांजा दूसरे राज्यों में पहुंचाते हैं।

READ MORE : छत्तीसगढ़ में राम रहीम के इस आश्रम में छिपी है हनीप्रीत! रहस्यमयी गुफा की ली जा रही तलाशी

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned