लोकसभा चुनाव के पहले इस प्रदेश में आई बेरोजगारों की बाढ़, परीक्षा केंद्रों में नहीं बची बैठने के लिए जगह, स्कूल-कॉलेज कम पड़ गए।

Brijesh Kumar Yadav | Publish: Mar, 17 2019 01:12:40 PM (IST) Bilaspur, Bilaspur, Chhattisgarh, India

रविवार को पटवारी परीक्षा में बेरोजगारी का हाल देखने मिला, बैठने की व्यवस्था न होने पर युवाओं के लिए शहर से 35-35 किलो मीटर दूर तक परीक्षा केंद्र बनाए गए।

बिलासपुर. रविवार को बिलासपुर में आयोजित पटवारी परीक्षा में बेरोजगारी का हाल देखने मिला जहां पटवारी परीक्षा देने के लिए इतने बेरोजगार पहुंचे कि परीक्षा आयेाजित कराने के लिए स्कूल-कॉलेज ही कम पड़ गए। बैठने की व्यवस्था न होने पर युवाओं के लिए शहर से 35-35 किलो मीटर दूर तक परीक्षा केंद्र बनाए गए। परीक्षा में छात्रों के झुंड के कारण बिलासपुर से 32 किलामीटर दूर कोटा, 17 किमी मस्तूरी, 17 किमी बिल्हा, 25 किमी रतनपुर मे परीक्षा केंद्र बनाने पड़े। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि प्रदेश और देश में युवाओं की दशा और दिशा क्या है। चुनाव में बेरोजगारी किस कदर हावी है।
छत्तीसगढ़ व्यवसायिक मंडल द्वारा रविवार को छत्तीसगढ़ पटवारी ट्रेनिंग चयन परीक्षा 2019 का आयोजन किया गया। परीक्षा में जिले के 37 हजार 246 प्रतिभागियों ने भाग लिया। परीक्षा के लिए जिलेभर में करीब 105 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। सुबह 10 बजे से दोपहर 1.15 बजे तक परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। केंद्रों पर युवाओं की भीड़ लगी हुई है। सफलता पूर्वक परीक्षा के आयोजन के लिए 11 उडऩ दस्तों का दल निरीक्षण कर रहा है। उडऩ दस्ता की टोली परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण अलग-अलग केंद्रों में दबिश दे रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned