21 सितम्बर से स्कूल खुलने को लेकर निर्देश का इंतजार, शिक्षा विभाग में तैयारी हुई शुरू

नए शिक्षा सत्र का आधा सत्र बीतने को है, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों ने अभिभावकों को सकते में डाल रखा है, तो दूसरी तरफ बच्चों के भविष्य को लेकर भी अधिकांश अभिभावक परेशान हैं कि आगे क्या होगा। हालाकि शासन स्तर पर ऑनलाइन क्लास व पढ़ाने के नए नए प्रयोग भी हो रहे हैं।

By: Karunakant Chaubey

Updated: 10 Sep 2020, 06:02 PM IST

बिलासपुर. अनलॉक 4 की जारी गाइड लाइन के अनुसार कक्षा 9वीं से 12 तक के बच्चे अभिभावकों की अनुमति लेकर अपने शिक्षक से स्कूल में मिल सकेंगे। केंद्र की ओर से गाइडलाइन जारी होने के बाद एक बार फिर स्कूल खुलने की सुगबुहाट शुरू हो गई है लेकिन दूसरी ओर जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा कि राज्य शासन ने अब तक कोई गाइड लाइन या आदेश जारी नहीं किया है। स्कूल शुरू होने का आदेश आते ही तैयारी पूरी कर ली जाएगी।

नए शिक्षा सत्र का आधा सत्र बीतने को है, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों ने अभिभावकों को सकते में डाल रखा है, तो दूसरी तरफ बच्चों के भविष्य को लेकर भी अधिकांश अभिभावक परेशान हैं कि आगे क्या होगा। हालाकि शासन स्तर पर ऑनलाइन क्लास व पढ़ाने के नए नए प्रयोग भी हो रहे हैं। केन्द्र सरकार ने हाल ही में अनलॉक 4 में स्कूल खुलने को लेकर गाइड लाइन जारी की है।

इसके तहत कक्षा 9वीं से 12वीं तक के बच्चों को स्कूल जाकर शिक्षकों से बात करने की छूट मिली है वह भी इस शर्त पर की स्कूल जाने के लिए बच्चे को अपने पालक से अनुमति लेनी होगी। केन्द्र की गाइड लाइन जारी होने के बाद शिक्षा विभाग को राज्य शासन की गाइड लाइन का इंतजार है। जिला शिक्षा अधिकारी अशोक भार्गव ने कहा कि स्कूल खुलने को लेकर राज्य शासन व स्कूल विभाग ने कोई गाइड लाइन जारी नहीं है, उसका इंतजार किया जा रहा है।

स्कूलों को चालू करने की सभी व्यवस्था है, स्कूल सेनेटाइज्ड हो चुके हैं वही कक्षाएं लगने के दौरान संक्रमण फैलने की आशंका न हो इसके लिए सारी व्यवस्था की जाएगी।

-अशोक भार्गव, डीईओ

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned