12 साल बाद मुंगेली के उसी बंगले में एक और महिला जज ने की आत्महत्या, पंखे से लटका मिला शव

12 साल पहले जिस बंगले में एक महिला जज ने आत्महत्या की थी, उसी बंगले में दीपावली की रात जिला एवं सत्र न्यायाधीश कांता मार्टिन ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 17 Nov 2020, 08:21 AM IST

मुंगेली. 12 साल पहले जिस बंगले में एक महिला जज ने आत्महत्या की थी, उसी बंगले में दीपावली की रात जिला एवं सत्र न्यायाधीश कांता मार्टिन ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। महिला जज का शव उनके शयन कक्ष से पंखे से लटका मिला। 55 वर्षीया मार्टिन अकेले रहती थीं, उनके पति का करीब डेढ़ साल पहले निधन हो गया था।

जानकारी के अनुसार दीपावली के अगले दिन सुबह देर तक जिला सत्र न्यायाधीश के बंगले का दरवाजा नहीं खुला तो सीजेएम ने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद कप्तान अरविंद कुजूर मौके पर पहुंचे। पुलिस टीम ने खिड़की खोलकर शयनकक्ष में भीतर देखा तो महिला जज का शव पंखे से लटक रहा था। पुलिस के अनुसार घटनास्थल को देखकर ऐसा लगता है कि महिला जज ने साड़ी को पंखे से बांध कर फंदा बनाया और खुदकुशी कर ली।

सूचना मिलने पर सीजेएम, कोर्ट स्टाफ, वकील, पुलिस अधीक्षक व अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे। पुलिस पूरे मामले की जांच करते हुए आत्महत्या के कारणों का पता लगाने का प्रयास कर रही है। पुलिस के अनुसार लगभग 12 साल पहले इसी बंगले में एक अन्य महिला जज ने भी आत्महत्या कर ली थी।

रविवार सुबह करीब 11 बजे पुलिस को सूचना मिली। इसके बाद पुलिस टीम मौके पर पहुच कर मामले की जांच कर रही है।
अरविंद कुजूर, एसपी, मुंगेली

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned