कोरोना नई राहें: सिस्टम बन जाए तो रोजगार गारंटी का पूरा कार्य घर से हो सकता है

महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना में नोटशीट, फाइलों का ऑनलाइन सिस्टम बन जाए तो पूरा कार्य वर्क फ्रॉम होम आसानी से हो सकता है।

By: GANESH VISHWAKARMA

Published: 26 May 2020, 10:23 PM IST

बिलासपुर . महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना में नोटशीट, फाइलों का ऑनलाइन सिस्टम बन जाए तो पूरा कार्य वर्क फ्रॉम कार्य होने में आसानी हो जाएगी।

जिला पंचायत के अंतर्गत मनरेगा का कार्य पूरे जिले के ग्राम पंचायतों में संचालित किया जा रहा है। इस योजना का ज्यादातर कार्य फील्ड वर्क है। इसकी रिपोर्ट बनाने का कार्य ऑनलाइन किया जा सकता है। मनरेगा के डॉटा इंट्री का कार्य फिलहाल ऑनलाइन किया जा रहा है। इसके अलावा जॉब कार्ड , एकाउंट का कार्य आधार कार्ड को सुधारने और एकाउंट के वेरीफिकेशन का कार्य वर्तमान में तीन कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम के तहत कार्य कर रहे है।
मनरेगा में एक एपीओ समेत नौ कर्मचारी कार्यरत है। दफ्तर में नोटशील फाइलों को आगे बढ़ाने के लिए वर्तमान में ऑनलाइन कोई सिस्टम अपडेट नहीं है। इसलिए यह कार्य मेन्युअल किया जा रहा है। यह कार्य ऑनलाइन होने पर लगभग शतप्रतिशत कार्य को वर्क फ्रॉम होम किया जा सकता है। फिलहाल यह कार्य अभी होने की कोई गुंजाइश नजर नहीं आ रहीं है। वर्क फ्रॉम होम करने के लिए पूरी तरह से कार्य पद्धति को बदलने की आवश्यकता पडेग़ी ।
कई काम घर से हो रहे
मनरेगा के कई कार्य वर्क फ्रॉम होम किए जा रहे है। पूरा कार्य करने में कई तरह की दिक्कतें है।
प्रमिल लठारे, समन्वयक,मनरेगा,बिलासपुर

GANESH VISHWAKARMA Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned