ज्यादा तनाव से कमजोर होगा शरीर का ये महत्तवपूर्ण हिस्सा

ज्यादा तनाव से कमजोर होगा शरीर का ये महत्तवपूर्ण हिस्सा

Vikas Gupta | Publish: Jun, 08 2019 12:45:36 PM (IST) तन-मन

अत्यधिक तनाव के कारण कुछ युवाओं में ये समस्या देखी गई है।

आज के दौर में तनाव कई बीमारियों की वजह बनता जा रहा है। अत्यधिक तनाव के कारण कुछ युवाओं में ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या देखी गई है। इस रोग का खतरा शहरी महिलाओं में भी काम और परिवार की देखभाल के चलते तेजी से बढ़ रहा है। नींद की कमी, शारीरिक गतिविधि का अभाव और घंटों काम करना आदि तनाव का रूप लेने लगता है। इससे बचने के लिए गहरी सांस लेने से जुड़े योग कपालभाति व भ्रामरी करने के साथ म्यूजिक थैरेपी ले सकते हैं।

तनाव का बुरा असर शरीर-दिमाग दोनों पर पड़ता है। पहला, जब तनाव ज्यादा होता है तो बॉडी में रिलीज होने वाले कार्टिसोल हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है। जिससे हड्डी की कोशिकाओं के निर्माण में बाधा आती है। वास्तव में बॉडी कार्टिसोल के पीएच संतुलन को प्रभावहीन करने के लिए हड्डियों से कैल्शियम जारी करती है। दूसरा, तनाव ज्यादा होने पर व्यक्ति की दिनचर्या बिगड़ जाती है जिससे नींद, समय पर भोजन और एक्सरसाइज का रुटीन गड़बड़ा जाता है। इससे भी हड्डियों को नुकसान पहुंचता है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned