फूल रखते हैं सबको कूल

फूल रखते हैं सबको कूल

Jitendra Kumar Rangey | Publish: Jun, 24 2019 01:27:55 PM (IST) तन-मन

फूलों का नाम आते ही चेहरे पर मुस्कान फेल जाती है और चारों ओर ताजगी का अनुभव होने लगता है।

शरीर स्वस्थ रहता है
फूलों के बीच रहकर एक नई ताकत मिलती है और शरीर स्वस्थ रहता है। यही वजह है कि आज कई घरों में फूलों की महक पाई जाती है जिससे मानसिक तनाव से छुटकारा मिलता है। रिसर्च में यह बात सामने आई है कि कई बीमारियों के इलाज में फूलों से फायदा हो रहा है।
गुलाब के फूल
गुलाब के फूल का रस दिल की बीमारियों को दूर करता है। इसे किशमिश के साथ खाने से भी दिल की कमजोरी दूर होती है। आंतों में अल्सर होने का डर भी दूर होता है। आंखों में जलन व दर्द होने पर इसके रस में चुटकी भर फिटकरी मिलाकर डालने से आराम मिलता है। मुंह में छाले होने, सिरदर्द, कब्ज व पेशाब में जलन की शिकायत होने पर भी इसे लिया जा सकता है।
जैस्मिन
जैस्मिन भी एक खुशबू वाला फूल है। आंखों की बीमारियों, मासिक धर्म की रुकावट व कमजोरी में इसके फूलों का इस्तेमाल किया जाता है। मानसिक तनाव व उदासी में भी जैस्मिन के फूलों से फायदा होता है।
गेंदा
गेंदे के फूलों से भी कई रोगों में लाभ लिया जा सकता है। इसके पत्तों और फूलों को उबाल कर कुल्ला करने से दांतों के दर्द व मुंह के छालों में फायदा होता है। शरीर में कहीं सूजन होने पर गेंदे के फूलों के पानी से आराम मिलता है। चेहरे पर दाने धब्बे मिटाने और अन्य स्किन संबंधित बीमारियों के इलाज में भी गेंदे के फूल बड़े उपयोगी हैं।
चम्पा
फूलों को पीसकर फुंसियों में लगाने से लाभ होता है। इसके फूलों का लेप माथे पर लगाने से सिर से जुड़ी बीमारियों में फायदा होगा।
कमल
दिल की तेज धड़कन को सही रखने में कमल के फूल बड़े फायदेमंद हैं। सिर दर्द व पेशाब की तकलीफों में भी इनसे आराम मिलता है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned