Coronavirus संदिग्ध बेटे ने गंवाई जान, सदमे में आई मां ने भी तोड़ा दम

मां का दिल बड़ा ही कोमल होता है, अपने बच्चों के लिए वह बड़ा प्यार संजोए होती हैं (Woman Died After Coronavirus Suspected Son's Death In Bokaro Jharkhand) (Jharkhand News) (Bokaro News)...

 

By: Prateek

Updated: 30 Jul 2020, 04:33 PM IST

बोकारो: मां का दिल बड़ा ही कोमल होता है, अपने बच्चों के लिए वह बड़ा प्यार संजोए होती हैं। अपने जीते जी वह अपने बच्चे को कुछ नहीं होने देना चाहती हैं, कुछ हो जाए तो मां निष्प्राण हो जाती है। यहां भी ऐसा ही हुआ कोरोना संदिग्ध पुत्र की मौत के बाद एक मां ने सदमे से अपने प्राण त्याग दिए।

यह भी पढ़ें: India में Coronavirus ने जानें कैसे पकड़ी रफ्तार, पहले 1 लाख केस 110 दिन में आए

यह मामला झारखंड के बोकारो जिले का है। मिली जानकारी के अनुसार बेरमो अनुमंडल के ऊपरघाट क्षेत्र स्थित पेंक कस्बे में व्यवसायी नरेश वर्णवाल (बदला हुआ नाम) अपने परिवार के साथ रहते थे। पहली पत्नी से उन्हें एक बच्चा था, पहली पत्नी की मौत के बाद उन्होंने दूसरी शादी की थी। दूसरी पत्नी से उन्हें एक पुत्र था। जिसका नाम हिमांशु (बदला हुआ नाम) था।

यह भी पढ़ें: Sushant के पूर्व कर्मचारियों ने SIT से पूछताछ में खोली Rhea Chakraborty की पोल, बताया कैसे रखती थी एक्टर की गतिविधियों पर नजर?

एक सप्ताह से हिमांशु की सेहत खराब थी। उसे 27 जुलाई को धनबाद के जालान अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां मंगलवार सुबह इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। उसकी कोरोना रिपोर्ट अभी तक प्राप्त नहीं हो पाई थी। इसलिए डॉक्टरों ने उसे संदिग्ध मानते हुए परिजनों को दूर रहते हुए, शरीर के संपर्क में ना आकर, दफनाने के लिए कहा।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी के आने से पहले रामजन्मभूमि परिसर में कोरोना की दस्तक, पुजारी के साथ 16 सुरक्षाकर्मी हुए संक्रमित

इसके बाद परिजन उसका शव लेकर गांव आ गए और दफना दिया। इसके बाद हिमांशु की मां दिप्ती वर्णवाल घर आकर सदमे में डूब गई। बताया जा रहा है कि बेटे के अंतिम दर्शन भी न कर पाने से उसे गहरा सदमा लगा था। घर पर कुछ खाने के बाद उनकी भी तबीयत बिगड़ गई। परिजन उन्हें गिरिडीह के अस्पताल में लेकर गए जहां इलाज के दौरान मां ने भी अंतिम सांस ली। 12 घंटे के अंतराल में ही परिवार के दो चिराग बुझ गए और दुनिया उजड़ गई। बेटे के पास ही मां का अंतिम संस्कार किया गया।

ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned