आत्म-अलगाव के बाद घर लौटने पर नामिश तनेजा ने सुनाई अपनी दास्तां

By: Subodh Tripathi
| Published: 05 Oct 2020, 06:02 PM IST
आत्म-अलगाव के बाद घर लौटने पर नामिश तनेजा ने सुनाई अपनी दास्तां
नमिश तनेजा

आत्मा-अलगाव के बाद घर लौटने पर नामिश तनेजा ने सुनाई अपनी दास्तां

मशहूर टीवी सीरियल ए मेरे हमसफर के नामिश तनेजा ने हाल ही में घर लौटने के बाद अपनी दास्तां सुनाई है। अपने परिवार के पूरी तरह ठीक होने के बाद नमिश घर लौट आये है। इसके बाद उन्होंने अपने अनुभव को शेयर करते हुए बताया जब मैं घर लौटा तो मेरे परिवार के सदस्यों ने मेरा स्वागत येेसेे किया जैसे भगवान राम अपने वनवास से लौटे हैं।

एक्टर ने बताया कि मेरे परिवार से आखिरकार मिलना एक खूबसूरत पल था ।जब मैं अपने पिताजी से मिला और उन्हें गले लगाया, तो उन्होंने सुकून महसूस किया ।कोरोना वायरस के लिए नकारात्मक परीक्षण करने के बाद मैंने पहली बार अपने माता-पिता को गले लगाया ।यह मेरे लिए एक मिश्रित भावना थी। अपने परिजनों से नहीं मिल पाने का दुखद अहसास मेरे लिए मुश्किल था । साथ ही तनावपूर्ण स्थिति के कारण मेरा वजन कम हो गया। जब हम दोबारा मिले तो मेरे माता-पिता और मेरी बहन भावुक हो गए । घातक वायरस पर अपनी जीत का जश्न मनाने के लिए मैंने अपने कुछ पसंदीदा व्यंजनों के साथ घर पर एक छोटा उत्सव मनाया।

उन्होंने बताया दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति ने मुझे उन लोगों की स्थिति के बारे में सोचने पर मजबूर कर दिया जो उपचार और अन्य विविध खर्चो का खर्च उठाने में असमर्थ हैं। मैं इस स्थिति को प्रबंधित करने में सक्षम होने के लिए मेरे द्वारा प्राप्त विशेष अधिकारों के लिए भगवान का शुक्रगुजार हूं। उचित चिकित्सा देखभाल और दृढ़ इच्छाशक्ति के साथ मेरे माता-पिता अच्छी तरह से ठीक हो गए। लेकिन मैं उन लोगों के बारे में सोच कर दुखी होता हूं । जिनके पास ऐसे समय में अपना परिवार नहीं है उन लोगों की दुर्दशा जो आत्म अलगाव , उपचार की लागत आदि के लिए अलग-अलग घरों का खर्च नहीं उठा सकते। मुझे उनकी कठिनाइयों का एहसास हुआ।