यश चोपड़ा के बाद अब यहां लगेगा श्रीदेवी का स्टैच्यू, कभी इस जगह हुई थी उनकी सुपरहिट फिल्म की शूटिंग!
Preeti Khushwaha
Publish: Sep, 10 2018 10:41:13 (IST)
यश चोपड़ा के बाद अब यहां लगेगा श्रीदेवी का स्टैच्यू, कभी इस जगह हुई थी उनकी सुपरहिट फिल्म की शूटिंग!

यहां की एक ट्रेन का नाम भी यश चोपड़ा की आखरी फिल्म 'जब तक है जान' पर रखा गया।

दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी बॉलीवुड की सदाबाहर एक्ट्रेसेस में से एक थीं। उन्होंने अपने फिल्मी कॅरियर में कई सुपरहिट फिल्में दी थीं। लेकिन करीब 6 महीने पहले उनके अचानक हुए निधन की खबर ने सभी को चौंका दिया था। जहां एक ओर श्रीदेवी के परिवार वाले आज भी उन्हें हर पल याद करते हैं वहीं उनके फैंस भी उन्हें भुला नहीं पाए हैं। श्रीदेवी के फैंस के लिए एक बड़ी खबर सामने आ रही है जिसे सुन उनके फैंस खुश हो जाएंगे। जानकारी के अनुसार स्विट्जरलैंड सरकार श्रीदेवी को सम्मानित करने का प्लान बना रही है।

sridevi

स्विट्जरलैंड में लगेगा श्रीदेवी का स्टैच्यू:
श्रीदेवी ने स्विट्जरलैंड में कई फिल्में शूट की हैं। वह पहली अभिनेत्री थीं, जिनके डांस स्विट्जरलैंड की पहाड़ियों पर फिल्माया गया था। उनकी सुपरहिट फिल्म 'चांदनी' की शूटिंग भी यहीं हुई थी। अब सुनने में आ रहा है कि यहां उनकी याद और सम्मान में उनका स्टैच्यू लगाया जाएगा। ये खबर यकीनन उनके फैंस को खुश कर देने वाली है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्विस सरकार ने इंटरलेकन में यश चोपड़ा की मूर्ति स्थापित करके भारत से अपने लगाव को दिखाया है। अब स्विट्जरलैंड टूरिज्म को प्रमोट करने में श्रीदेवी के योगदान को देखते हुए उनके सम्मान में वहां उनकी मूर्ति लगाने का प्रस्ताव पेश किया गया है।

 

sridevi

इसकी शुरुआत हुई थी राज कपूर से:
स्विट्जरलैंड में फिल्मों की शूटिंग की शुरुआत सबसे पहले राज कपूर से हुई थी। साल 1964 में आई उनकी फिल्म 'संगम' के कुछ भाग यहां शूट किए गए थे' इसके बाद 1967 में 'एन इवनिंग इन पेरिस' की शूटिंग भी यहीं हुई थी। बात दें कि यहां की सरकार को भारतीय फिल्मों से काफी फायदा होता है। यही नहीं शाहरुख खान की अधिकतर फिल्मों की शूटिंग स्विट्जरलैंड में ही की जाती है। यहां की एक ट्रेन का नाम भी यश चोपड़ा की आखरी फिल्म 'जब तक है जान' पर रखा गया था। ये बात कम लोग ही जानते हैं कि Lauenensee में एक लेक है जिसे यश चोपड़ा लेक के नाम से जाना जाता है। उन्हें ये लेक बहुत पसंद था।