जेएनयू में हुई हिंसा को लेकर प्रदर्शन के बीच दिखाई दिए 'फ्री कश्मीर' के पोस्टर, अनुपम ने गुस्से में पूछा- ये पोस्टर क्यों दिखाया गया?

Riya Jain
| Updated: 07 Jan 2020, 11:17:28 AM (IST)
जेएनयू में हुई हिंसा को लेकर प्रदर्शन के बीच दिखाई दिए 'फ्री कश्मीर' के पोस्टर, अनुपम ने गुस्से में पूछा- ये पोस्टर क्यों दिखाया गया?
जेएनयू में हुई हिंसा को लेकर प्रदर्शन के बीच दिखाई दिए 'फ्री कश्मीर' के पोस्टर, अनुपम ने गुस्से में पूछा- ये पोस्टर क्यों दिखाया गया?

( jnu attack ) में हुई हिंसा को लेकर पूरा देश आक्रोश में हैं। लेकिन जेएनयू में हुई हिंसा के विरोध में मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया पर चल रहे प्रदर्शन के दौरान कई जगह 'फ्री कश्मीर' के पोस्टर दिखाई दिए।

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी ( jnu attack ) में हुई हिंसा को लेकर पूरा देश आक्रोश में हैं। आम जनता सहित कई बॅालीवुड सितारे इसके खिलाफ आवाज उठा रहे हैं। तापसी पन्नी, जोया अख्तर सहित कई नामचीन हस्तियां इस दौरान सड़क पर आकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

जेएनयू में हुई हिंसा को लेकर प्रदर्शन के बीच दिखाई दिए 'फ्री कश्मीर' के पोस्टर, अनुपम ने गुस्से में पूछा- ये पोस्टर क्यों दिखाया गया?

लेकिन जेएनयू में हुई हिंसा के विरोध में मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया पर चल रहे प्रदर्शन के दौरान कई जगह 'फ्री कश्मीर' के पोस्टर दिखाई दिए। इन पोस्टरों ने एक बार फिर सोचने को मजबूर कर दिया है कि क्या ये लोग कश्मीर को देश का हिस्सा नहीं मानते। ये चाहते हैं कि कश्मीर देश से अलग हो जाए। ये प्रदर्शन जेएनयू में हुई हिंसा के खिलाफ था या फिर कश्मीर की आजादी के लिए।

जेएनयू में हुई हिंसा को लेकर प्रदर्शन के बीच दिखाई दिए 'फ्री कश्मीर' के पोस्टर, अनुपम ने गुस्से में पूछा- ये पोस्टर क्यों दिखाया गया?

इसपर बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर ( Anupam Kher ) ने भी ट्वीट किया है। पोस्टर शेयर करते हुए अनुपम खेर ने पूछा है कि जेएनयू हिंसा पर हो रहे इस प्रदर्शन में ये पोस्टर क्यों दिखाया गया? इसका क्या कनेक्शन है? क्या कोई जिम्मेदार व्यक्ति इसका विरोध करता है? अगर नहीं तो सॉरी ये छात्रों का आंदोलन नहीं है। इसका उद्देश्य कुछ और है।

जेएनयू में हुई हिंसा को लेकर प्रदर्शन के बीच दिखाई दिए 'फ्री कश्मीर' के पोस्टर, अनुपम ने गुस्से में पूछा- ये पोस्टर क्यों दिखाया गया?

गौरतलब है कि इस प्रदर्शन में अनुभव सिन्हा, अनुराग कश्यप, दीया मिर्जा, विशाल भारद्वाज और तापसी पन्नू जैसी हस्तियां शामिल हुई थीं। बता दें कि 'फ्री कश्मीर' का मतलब है कि कश्मीर को आजाद करो। 5 अगस्त को भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया था। इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर का विभाजन कर इसे जम्मू-कश्मीर और लद्धाख दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया गया था।