Bigg Boss 13 : हिंदुस्तानी भाऊ ने खोले ऐसे राज, रश्मि-शहनाज़ रह गए दंग

Pratibha Tripathi
| Updated: 14 Nov 2019, 05:10:13 PM (IST)
Bigg Boss 13 : हिंदुस्तानी भाऊ ने खोले ऐसे राज, रश्मि-शहनाज़ रह गए दंग

  • हिंदुस्तानी भाऊ को धमकी देना विशाल को पड़ा भारी
    हिंदुस्तानी भाऊ ने खोले ऐसे राज

नई दिल्ली। अपने बिंदास रवैये और अपने खास अंदाज से पहचान बनाने वाले हिंदुस्तानी भाऊ ने बिग बॉस 13 के घर में एंट्री करते ही कई लोगों के दिलों को जीतने की कोशिश की है। अब वो घर के अंदर रश्मि देसाई के गुस्से को काबू करने के मंत्र बताने में लगे हुए है। आने वाले एपिलसोड में आपको एक ऐसा गेम देखने को मिलेगा जिसमें वो रश्मि को खेल खेलने के तरीके के बारे में बताते है और साथ ही अपने जीवन से जुड़े की खुलासे करते हैं।
भाऊ अपनी जिंदगी के बारे में बताते है कि 12 साल की उम्र से में काफी मेहनत कर रहा हूं। तब जाकर यहां पहुंचा हूं।" रश्मि ने जब उनके बारे में और अधिक जानने की कोशिश की तो उन्होने बताया कि वो पहले जिमखाना में बॉलबॉय का काम करते थे ,ट्रेन में अगरबत्ती बेचा, लेडीज बार में थाली धोया, छोटू का काम किया, लेकिन इसके बाद भी मुझे पगार (वेतन) नहीं मिलता था।जो खाना बचता था वो थैली में डालकर घर लाता था। बहुत काम किया। दुनियादारी देखी है। मैं लोगों को पहचानता है। किस की औकात किधर है जानता है।''

रश्मि और शहनाज़ दोनों उनकी बातो को सुनकर दंग रह जाते हैं। जब रश्मि पूरी तरह से उनकी बातों में फस जाती है तब वो इसी बीच पूछ बैठती है मेरे बारे में बताओ। इस पर भाऊ कहते हैं- 'तेरे को नहीं समझा है मैं अभी तक। तेरी कसम नहीं समझा।' इस पर रश्मि कारण पूछती है। तो भाऊ कहते हैं- 'पर एक बात है, तू दिल की साफ है, पर तेरा खेल नहीं समझ आया अभी तक।' इस पर रश्मि टोकती है- 'खेल तो है ही नहीं। सीधा चलो तो सीधा।'इस पर हिंदुस्तानी भाऊ कहते हैं कि रश्मि की अपनी ही दुनिया है। वह जब खेलती है जब जरूरी होता है। 'तू टॉप 5 में है और खेल को खेलते समय गुस्सा नहीं होना। ये समझ की मैं तेरे को गुरुमंत्र दे रहा हूं बड़ा भाई समझ के। जितना वो सामने वाला चिढ़ाएगा और तू चिढ़ कर गुस्सा नहीं होना।'
अब इस एपिसोड को देखने के बाद आपको लगने लगेगा कि बिग बॉस केो घर के अंंदर हिंदुस्तानी भाऊ के रूप में रश्मि को नया गुरु मिल गया है। उम्मीद है कि भाऊ की सलाह रश्मि गंभीरता से लेगी और खेल में आगे बढ़ेगी।