Biswajit Chatterjee को इंडियन पर्सनैलिटी ऑफ द ईयर अवार्ड

By: पवन राणा
| Published: 17 Jan 2021, 12:00 AM IST
Biswajit Chatterjee को इंडियन पर्सनैलिटी ऑफ द ईयर अवार्ड
Biswajit Chatterjee

  • बिस्वजीत चटर्जी ( Biswajit Chatterjee ) को इंडियन पर्सनैलिटी ऑफ द ईयर अवार्ड
  • सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने की घोषणा
  • मार्च 2021 में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के साथ दिया जाएगा यह अवार्ड

मुंबई। कई यादगार बंगाली फिल्में देने वाले दिग्गज अभिनेता और निर्देशक बिस्वजीत चटर्जी ( Biswajit Chatterjee ) को गोवा में शुरू हुए 51 वें इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया में इंडियन पर्सनैलिटी ऑफ द ईयर अवार्ड देने की घोषणा हुई है। देश के सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ( Prakash Javdekar ) ने उद्घाटन समारोह में इसकी घोषणा करते हुए कहा कि बिस्वजीत चटर्जी को मार्च 2021 में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार प्रदान किए जाने के मौके पर यह अवार्ड दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें : कंपकपाती सर्दी में इस भारतीय एक्ट्रेस ने किया बर्फ से भरे टब में स्नान, गिनाए इसके फायदे

इन अभिनेत्रियों के साथ जमीं जोड़ियां
बिस्वजीत चटर्जी किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। उन्हें फिल्म बीस साल बाद में कुमार विजय सिंह, कोहरा में राजा अमित कुमार सिंह, अप्रैल फूल में अशोक, मेरे सनम में रमेश कुमार, नाइट इन लंदन में जीवन, दो कलियां में शेखर और फिल्म किस्मत में विक्की जैसे यादगार किरदारों के लिए जाना जाता है। उनकी जोड़ी आमतौर पर आशा पारेख, वहीदा रहमान, मुमताज, माला सिन्हा और राजश्री जैसी उल्लेखनीय अभिनेत्रियों के साथ नजर आती थी।

फिल्म से जुड़ी कई विधाओं में पारंगत
बिस्वजीत चटर्जी ने कई यादगार बंगाली फिल्में दीं हैं। उनकी प्रमुख बंगाली फिल्मों में चौरंगी (1968) और उत्तम कुमार के साथ गढ़ नसीमपुर और कुहेली इसके बाद में श्रीमान पृथ्वीराज (1973), जय बाबा तारकनाथ (1977) और अमर गीती (1983) शामिल हैं। बिस्वजीत ने वर्ष 1975 में अपनी फिल्म कहते हैं मुझको राजा का निर्माण और निर्देशन किया। अभिनेता एवं निर्देशक के अलावा वह एक गायक और निर्माता भी रहे हैं।

जावडेकर ने निजी भागीदारी का किया आह्वान

प्रकाश जावडेकर ने आईएफएफआई के 51वें संस्करण के उद्घाटन समारोह में कहा, 'आईएफएफआई-गोवा का आयोजन भारत सरकार और गोवा सरकार द्वारा हर साल किया जाता है। क्यों? इसलिए कि इसमें फिल्म उद्योग और अन्य उद्योगों की भागीदारी होनी चाहिए। इस समारोह का आयोजन केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय के फिल्म समारोह निदेशालय और गोवा सरकार की एंटरटेनमेंट सोसाइटी ऑफ गोवा द्वारा प्रतिवर्ष किया जाता है। यह समारोह अमूमन नवंबर में आयोजित किया जाता रहा है, लेकिन इस बार कोरोना महामारी के कारण देरी हुई।

यह भी पढ़ें : सैफ अली खान की 'तांडव' वेब सीरीज पर हो रहा बवाल, यहां पढ़ें इसका रिव्यू

'2021 में हमारे पास इसका टीका है'

जावडेकर ने कहा,'इस साल की खासियत देखिए कि जनवरी, 2020 में यह बीमारी भारत में आई, लेकिन मानव जाति, बुद्धि और इच्छाशक्ति की ताकत ऐसी है कि अब 2021 में हमारे पास इसका टीका है। समारोह में मुख्य अतिथि सुदीप ने कहा कि सिनेमा और खेल दुनियाभर में हर किसी से जुड़े हुए हैं। उन्होंने लोगों से सिनेमा के प्रति अपना जुनून दिखाने का आग्रह किया।