'बार-बार देखो' को लगी सेंंसर बोर्ड की नजर, इन सीन्स पर चली कैंची
Dilip Chaturvedi
| Updated: 30 Aug 2016, 01:01:00 PM (IST)
'बार-बार देखो' को लगी सेंंसर बोर्ड की नजर, इन सीन्स पर चली कैंची
baar baar dekho

सेंसर बोर्ड ने बार बार देखो के कई सीन्स पर चलाई कैंची और फिल्म को यूए सर्टिफिकेट दिया...

मुंबई। फिल्म 'बार-बार देखो' के फिल्मकार ने काला चश्मा गीत शायद इसलिए भी डाला हो कि फिल्म को किसी की नजर न लगे, लेकिन सेंसर बोर्ड की नजर से फिल्म नहीं बच सकी। जी हां, सेंसर बोर्ड एक बार फिर विवादों में हैं औरी इसकी वजह है बार बार देखो, जिसमें से ब्रा वाले सीन पर आपत्ति जताई है और उसे हटाने के निर्देश दिए हैं। हम आपको बता दें कि सेंसर बोर्ड को जितन सीन्स पर आपत्ति है, वो दृश्य कैटरीना कैफ पर फिल्ममाए गए हैं। इतना ही फिल्म के एक डायलॉग में सविता भाभी का जिक्र किया गया है। 

Katrina-Kaif-HD-Hot-Look-picture.jpg">

गौरतलब है कि सविता भाभी इंटरनेट की दुनिया में एक जाना माना पॉर्न कैरेक्टर है। लिहाजा सेंसर बोर्ड ने फिल्म के इस डायलॉग पर भी कैंची चला दी है। सेंसर बोर्ड के सीईओ अनुराग श्रीवास्तव ने इस बात की पुष्टि की है कि फिल्म में तीन चार कट्स लगाए गए हैं। हालांकि उन्होंने सीन का जिक्र नहीं किया है।


सेंसर बोर्ड के इस फैसले पर फिल्मकार नित्या मेहरा ने सवाल उठाए हैं। नित्या ने 20 साल पहले आई फिल्म डीडीएलजे का हवाला देते हुए पूछा है कि उसमें भी तो ब्रा वाला सीन था, लेकिन उस पर कट नहीं लगा। कई और फिल्मों का भी फिल्म से जुड़े लोग हवाला दे रहे हैं। लेकिन संस्कारी सेंसर बोर्ड पुराने पन्ने को पलटने को तैयार नहीं है।


यूं तो फिल्म में कई किसिंग सीन भी हैं, लेकिन बोर्ड को इन पर आपत्ति नहीं जताई। यह समझ से परे है कि एक तरफ आप किस को प्रमोट कर रहे हो, तो दूसरी ओर ब्रा वाले सीन पर कैंची चला रहे हो। बहरहाल, कैटरीना कैफ और सिद्धार्थ मल्होत्रा की यह रोमांटिक फिल्म है, जो अगले सप्ताह 9 सितम्बर को रिलीज हो रही है।