Casting Couch जैसे कांटों से भरी है फिल्म इंडस्ट्री की डगर, लड़कियों के लिए और भी हैं चैलेंज

By: पवन राणा
| Published: 23 Aug 2020, 12:00 AM IST
Casting Couch जैसे कांटों से भरी है फिल्म इंडस्ट्री की डगर, लड़कियों के लिए और भी हैं चैलेंज
Casting Couch जैसे कांटों से भरी है फिल्म इंडस्ट्री की डगर, लड़कियों के लिए और भी हैं चैलेंज

‘बाहुबली’ फेम अभिनेत्री अनुष्का शेट्टी का कहना है कि एक्ट्रेस को यह तय करना चाहिए कि क्या वह आसान तरीके से सफलता चाहती है अथवा मेहनत के रास्ते इंडस्ट्री में लंबे समय तक बने रहना चाहती हैं।

मुंबई। बॉलीवुड के रूपहले पर्दे पर कॅरियर बनाने की आकांक्षी लड़कियों को सफलता की राह पर उगे यौन उत्पीड़न के कांटों से जूझते हुए ही आगे बढ़ना होता है। कुछ इनसे बच जाती हैं तो कुछ कास्टिंग काउच का शिकार होने के बाद ही सक्सेस का स्वाद चख पाती हैं। इस दुनिया में कास्टिंग काउच के साथ ही महिला कलाकारों को पुरुष कलाकारों से कम फीस का दंश भी झेलना पड़ता है। ट्रोलर्स भी उन्हें नहीं बख्शते और मौका मिलते ही दबोच लेते हैं। बॉलीवुड की इस हकीकत पर हाल ही अभिनेत्री अनुष्का शेट्टी, बिपाशा बसु ने अपनी बात रखी। वहीं स्वरा भास्कर ने महिलाओं के चित्रण और सोनाक्षी सिन्हा ने आॅनलाइन ट्रोलिंग करने वाले एक शख्स को पकड़वाया।

प्रोड्यूसर ने किया ऐसा मैसेज

बिपाशा बसु ने एक इंटरव्यू में कहा कि 'एक टॉप प्रोड्यूसर के साथ फिल्म साइन करके घर पहुंची तो उसका मैसेज आया, 'तुम्हारी मुस्कुराहट को मिस कर रहा हूं।' इस अजीब मैसेज को मैंने इग्नोर किया, लेकिन थोड़ी देर में फिर वैसा ही मैसेज आया। इसी दौरान एक दोस्त को भेजने के लिए तैयार सख्ती भरा मैसेज गलती से प्रोड्यूसर को चला गया। इसके बाद प्रोड्यूसर ने मुझे कभी मैसेज नहीं किया। एक इवेंट के दौरान वह मुझे दिखा लेकिन उसने अपना रास्ता बदल दिया। जिसे देखकर मुझे बहुत हंसी आई।

'महिला किरदार पाक-साफ देखना पसंद करते हैं'

स्वरा भास्कर ने एक इंटरव्यू में कहा, 'फिल्मों और दूसरे दृश्य माध्यमों में पुरुषों के किसी भी किरदार को पसंद कर लिया जाता है जबकि महिलाओं को 'पारंपरिक छवि' में देखना चाहते हैं। समस्या ये है कि हम महिला किरदारों को इंसानों की तरह नहीं देखते, बल्कि महिलाओं की तरह देखते हैं। सिनेमा और अन्य दृश्य माध्यमों में लंबे समय से पुरुषों के अलग-अलग किरदार देखने के आदी रहे दर्शक मौज मस्ती करने वाले पुरुष किरदारों को तो पसंद कर लेते हैं, लेकिन महिला किरदार बिल्कुल पाक—साफ देखना पसंद करते हैं।'

'तेलुगू इंडस्ट्री में भी कास्टिंग काउच'

‘बाहुबली’ फेम अभिनेत्री अनुष्का शेट्टी ने कहा, 'तेलुगु फिल्म इंडस्ट्री में भी कास्टिंग काउच है, लेकिन मैंने खुद को कभी भी इसका शिकार होने नहीं दिया और आगे बढ़ती चली गई। स्ट्रेट फॉरवर्ड होने से किसी को भी मुझे प्रताड़ित करने का मौका नहीं मिला। मैं हमेशा सीधे और खुलकर बात करती हूं। एक एक्ट्रेस को यह तय करना चाहिए कि क्या वह आसान तरीके से सफलता चाहती है अथवा मेहनत के रास्ते इंडस्ट्री में लंबे समय तक बने रहना चाहती हैं।'

सोनाक्षी की अपील के बाद भी नहीं माना ट्रोलर

आॅनलाइन ट्रोलिंग और नेगेटिवीटी के कारण लंबे समय से इंस्टाग्राम पर बंद कमेंट सेक्शन को सोनाक्षी सिन्हा ने हाल ही ओपन करके लोगों से अभद्र शब्दों का इस्तेमाल नहीं करने की अपील की। लेकिन ट्रोलर्स नहीं माने। मजबूरन सोनाक्षी को 14 अगस्त को मुंबई पुलिस में शिकायत दर्ज करानी पड़ी। पुलिस ने उस युवक को गिरफ्तार कर लिया है जिसने अभद्र शब्दों का इस्तेमाल किया था।