'चोली के पीछे..' तो कभी 'मुझको राणाजी माफ करना..' जैसे डबल मीनिंग गाने से मशहूर हुई ये सिंगर, दुनिया भर में है नाम
Riya Jain
Publish: Mar, 15 2019 02:26:32 (IST) | Updated: Mar, 15 2019 02:26:33 (IST)
'चोली के पीछे..' तो कभी 'मुझको राणाजी माफ करना..' जैसे डबल मीनिंग गाने से मशहूर हुई ये सिंगर, दुनिया भर में है नाम

Ila Arun आज जन्मदिन है।

राजस्थान में जन्मी हिंदी सिनेमा की मशहूर अभिनेत्री और पार्श्व गायिका Ila Arun का आज जन्मदिन है। उनका ससुराल कानपुर-लखनऊ के बीच बसे उन्नाव जिले में है। कहा जा सकता है की इला का नाता देश को कोने-कोने से है। तो आइए उनके बर्थडे पर जानते हैं सिंगर से जुड़ी दिलस्प बातें।

इला अरुण ने नॉर्वे के सबसे ज्यादा लोकप्रिय नाटककार 'हेनरिक इस्बेन' के नाटकों को न सिर्फ हिंदी में रूपांतरण किया है बल्कि देश-विदेश में इनका सफलतापूर्वक मंचन भी किया है।

 

ila-arun-birthday-special-unknown-facts

माधुरी दीक्षित अभिनीत फिल्म खलनायक के लिए अलका याग्निक के साथ गाया गया उनका अब तक का सबसे प्रसिद्ध फिल्मी गीत 'चोली के पीछे क्या है ' के लिए उन्होंने सर्वश्रेष्ठ महिला पार्श्व गायिका का फिल्मफेयर पुरस्कार मिल चुका है।

 

ila-arun-birthday-special

इला अरुण का एक और फिल्म करण-अर्जुन का गीत 'गुप चुप' काफी प्रसिद्ध है। इस फिल्म के बाद इला एक मशहूर गायिका के रूप में मशहूर हो गईं।

इला, श्रीदेवी द्वारा अभिनीत फिल्म 'लम्हें' में लता मंगेशकर के साथ अपने गीत 'मोरनी बगा मा बोले' के लिए भी जानी जाती हैं।