BMC के नोटिस पर Kangana ने दिया करारा जवाब, कहा-अगर आप इसे तोड़ेंगे तो...

By: पवन राणा
| Published: 08 Sep 2020, 10:48 PM IST
BMC के नोटिस पर Kangana ने दिया करारा जवाब, कहा-अगर आप इसे तोड़ेंगे तो...

कंगना रनोत ( Kangana Ranaut ) ने बीएमसी ( BMC ) के नोटिस का जवाब दिया है। उन्होंने अपने एक ट्वीट में बीएमसी के नोटिस के जवाब की कॉपी भी शेयर की है। उनकी तरफ से वकील रिजवान सिद्दीकी हैं।

मुंबई। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने मंगलवार को बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनोत ( Kangana Ranaut ) को मुंबई के बांद्रा इलाके में स्थित उनके कार्यालय परिसर का निर्माण कथित तौर पर अवैध रूप से होने के चलते वहां नोटिस चस्पा कर दिया है। इसकी पुष्टि अधिकारियों ने की।

असिस्टेंट म्युनिसिपल कमिश्नर, एच वेस्ट वॉर्ड (बांद्रा, खार) विनायक विस्पुते ने कहा, कंगना रनोत को एक नोटिस जारी किया गया है। उन्हें 24 घंटे के भीतर इस पर अपना जवाब देने को कहा गया है, जिसके बाद मामले में उचित कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि बीएमसी दो साल पहले भी भिन्न संरचना के लिए उन्हें नोटिस जारी कर चुकी है।

नोटिस दिए जाने के एक दिन पहले बीएमसी की टीम अचानक कंगना के ऑफिस जा पहुंची और बांद्रा वेस्ट के नर्गिस दत्त रोड स्थित चेतन रॉ हाउस के बंगला नंबर 5 के परिसर का निरीक्षण किया। बीएमसी की टीम द्वारा कंगना के ऑफिस के कर्मचारियों को जब नोटिस दिया गया, तो उन्होंने इसे लेने से इनकार कर दिया, जिसके बाद ऑफिस के बाहर इसे चिपका दिया गया।

कंगना ने बीएमसी के नोटिस का जवाब दिया है। उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा,'बीएमसी मेरे घर को तोड़ने को बेकरार है। मेरे वर्षों की मेहनत से जो घर बनाया है उसे बहुत प्यार करती हूं, लेकिन ये जान लें कि अगर आप इसे तोड़ेंगे तो मेरी इच्छाशक्ति और मजबूत होगी।' इससे पहले किए गए ट्वीट में कंगना ने बताया कि उनके वकील रिजवान सिद्दीकी ने बीएमसी के नोटिस का जवाब दिया है। उम्मीद है कि वे मेरी प्रोपर्टी को गिराने का प्लान स्थगित कर देंगे।

अवैध निर्माण के अलावा, कंगना को 24 घंटे के भीतर अपने कार्यालय परिसर के अंदर चल रहे मणिकर्णिका फिल्म्स के काम को रोकने और निर्माण के लिए प्राप्त आवश्यक दस्तावेजों को जमा करने का आदेश दिया गया है। कथित रूप से इनमें से कुछ को अनधिकृत पाया गया है।

इनमें दो बंगलों को मिलाना, ग्राउंड-फ्लोर के एक टॉयलेट को ऑफिस केबिन में बदलना, स्टोर रूम को किचन में तब्दील करना, ग्राउंड फ्लोर पर अवैध तरीके से पेंट्री का निर्माण, स्टोररूम के पास अवैध तरीके से शौचालय और पार्किं ग एरिया बनाना, पहली मंजिल के लिविंग रूम को अवैध तरीके से बांटना, पूजा के कमरे में अवैध ढंग से मीटिंग रूम का निर्माण, बालकनी एरिया को कमरे की तरह से इस्तेमाल करने सहित और भी कई चीजें शामिल हैं।