scriptmehboob khan death anniversary unknown facts and personal life | अस्तबल में घोड़े की नाल ठोकने का काम करते थे महबूब खान, यहीं से मिला पहली फिल्म में काम | Patrika News

अस्तबल में घोड़े की नाल ठोकने का काम करते थे महबूब खान, यहीं से मिला पहली फिल्म में काम

'महबूब' भला इस नाम से कौन नहीं पर्चित होगा। इन्होंने भारतीय सिनेमा को एक खास मुकाम पर पहुंचाया। हिंदी सिनेमा के महान फिल्‍म मेकर महबूब खान को लोग सदियों तक याद रखेंगे। आज भले ही वो इस दुनिया में न हों, लेकिन उनकी यादें और फिल्में हमारे जेहन में हमेशा जिंदा रहेंगी।

नई दिल्ली

Published: May 28, 2022 01:25:31 pm

फिल्म निर्देशक महबूब खान का जन्म 9 सितंबर, 1907 को गुजरात के बिलिमोड़ा शहर में हुआ था। 28 मई 1964 को महबूब खान का निधन हो गया था। महबूब खान की आज 68वीं पुण्यतिथि है। अपनी अद्भुत कला के माध्यम से उन्होंने भारतीय सिनेमा का परिचय विदेश तक करवाया, लेकिन ये इतना आसान नहीं था इस मुकाम तक आने के लिए उन्होंने काफी संघर्ष किया।
mehboob khan death anniversary unknown facts and personal life
mehboob khan death anniversary unknown facts and personal life
अक्सर ऐसा होता है कि हम ख्वाब तो कुछ और देखते हैं, लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर होता है। आसा ही कुछ हुआ था निर्देशक महबूब खान के साथ। कम ही लोग जानते हैं कि महबूब खान निर्देशक नहीं बल्कि एक्‍टर बनने का ख्‍वाब रखते थे। 16 साल की उम्र में ही वे घर से भागकर अपनी किस्‍मत आजमाने मुंबई आ गये थे। उनके पिता को जैसे ही इस बारे में पता चला तो वे उन्‍हें वापस घर ले आये, लेकिन अभी भी उनके अंदर ये सपना जिंदा था।
mehboob khan death anniversary unknown facts and personal lifeमहबूब दोबारा ऐसी हरकत न करें इसके लिए उनके पिता ने एक बेहद छोटी लड़की से कम उम्र में ही उनकी शादी करवा दी। उन्होंने घुटने टेक दिए और शादी कर ली। कुछ समय पश्चात अपने ही शहर में उनकी मुलाकात एक व्यक्ति नूर मोहम्मद से हुई। नूर मोहम्मद ने महबूब को अस्तबल में घोड़े की नाल ठोकने का काम ऑफर किया। दरअसल में नूर मोहम्मद हिंदी सिनेमा के प्रोड्यूसर और फिल्मों में घोड़ा सप्लाई करने का काम करते थे, जिसके चलते महबूब दिमाग में कुछ सूझा और उन्होंने इसके लिए हांमी भर दी और जेब में 3 रुपए लेकर मुंबई के लिए निकल गए।
उस समय महबूब खान 23 वर्ष के थे। एक दिन घोड़े की नाल ठीक करने वाले महबूब खान का साउथ फिल्म की शूटिंग के सेट पर जाना हुआ, बस यहीं वो दिन था जहां से मबूब की किस्मत बदलने वाली थी।

इस फिल्म का निर्देशन चंद्रशेखर कर रहे थे। यहां रुककर उन्होंने फिल्में बनने का पूरा प्रोसेस देखा और डायरेक्टर से कहा कि वह उनके साथ काम करना चाहते हैं। चंद्रशेखर ने उन्हें फिल्म में एक छोटी सी भूमिका दे दी और इसके बाद शुरू हुआ महबूब खान का एक्टिंग करियर।

यह भी पढ़े- ईशा देओल ने सबके सामने अमृता राव को जड़ा था थप्पड़ और फिर कहा था- वो इसी लायक है
mehboob khan death anniversary unknown facts and personal lifeमहबूब खान ने मेरी जान और दिलवर जैसी कुछ फिल्मों में अभिनय किया। लेकिन उन्हें पहचान मिली निर्माता-निर्देशक के तौर पर। 1935 में महबूब खान को फिल्म अल हिलाल का निर्देशन का मौका मिला जो अरब और रोम के बीच युद्ध की पृष्ठभूमि पर आधारित थी, यह फिल्म दर्शकों को खूब पसंद आई। इसके बाद महबूब खान ने आन, अंदाज, अनमोल घड़ी, औरत, अमर, तकदीर, अनोखी अदा और रोटी जैसी शानदार फ़िल्में निर्देशित व निर्मित कीं, लेकिन जिस फिल्म ने उन्हें बुलंदि पर पहुंचाया वो थी साल 1957 में आई फिल्म मदर इंडिया। इस फिल्म ने ऑस्कर की रेस में अपनी जगह बनाई थी। हालांकि फिल्म ऑस्कर अवार्ड तो नहीं जीत पाई थी, लेकिन इसने भारतीय सिनेमा को एक नई दिशा दिखाई थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: शिवसेना के सारे MLA-Minister हुए बागी, उद्धव के साथ बचे सिर्फ MLC-Minister और बेटा आदित्य ठाकरेMaharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में क्या बन रहे हैं नए सियासी समीकरण? बागी एकनाथ शिंदे ने राज ठाकरे से की फोन पर बातचीतRajasthan Invest Summit : कांग्रेस शासित राजस्थान में 1.68 लाख करोड़ के निवेश की तैयारी में Rahul Gandhi के 'Double A'जम्मू कश्मीर: अमरनाथ यात्रा से पहले डोडा में पुलिस पर हमले की साजिश रच रहा लश्कर का आतंकी गिरफ्तार, चीनी पिस्तौल बरामदRam Nath Kovind Vrindavan Visit : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद वृंदावन पहुंचे, सीएम योगी ने किया स्वागत, जानें पूरा कार्यक्रमExclusive Interview: राष्ट्रपति उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को किस आधार पर जीत की उम्मीद और क्या बोले आदिवासी महिला के खिलाफ उम्मीदवारी परराष्ट्रपति चुनाव: विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा आज नामांकन दाखिल करेंगेभारतीय टीम ने आयरलैंड को पहले टी-20 में 7 विकेट से रौंदा, हार्दिक पांड्या और दीपक हूडा का दमदार प्रदर्शन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.