ड्रग्स मामले में एनसीबी Rhea Chakraborty को भेज सकती है समन, सबको एक साथ बुलाकर हो सकती है जल्द पूछताछ

By: Shweta Dhobhal
| Published: 05 Sep 2020, 07:37 PM IST
ड्रग्स मामले में एनसीबी Rhea Chakraborty को भेज सकती है समन, सबको एक साथ बुलाकर हो सकती है जल्द पूछताछ
NCB May Soon Send Summons To Rhea Chakraborty In Sushant Case

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजूपत केस में ड्रग्स मामले की जांच कर रही एजेंसी एनसीबी जल्द ही रिया चक्रवर्ती को समन भेज सकती है। एनसीबी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि वह अभी हाथ लगे सबूतों की जांच कर रहे हैं और हो सके तो जल्द ही सबको साथ बिठाकर पूछताछ भी करेंगे।

नई दिल्ली। दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का केस में अब एक जांच एंजेसी नहीं बल्कि तीन जांच एंजेसियां मामले को सुलझा रही है। पहले केस में मनी लॉन्ड्रिंग के चलते ईडी की एंट्री हुई। फिर सीबीआई को केस सौंपा गया। जिनकी जांच पड़ताल में केस की सुईं ड्रग्स पर आकर अटक गई। ड्रग्स चैट सामने आने पर एनसीबी को भी केस की जांच के लिए आगे आना पड़ा। जिसके बाद एनसीबी ने पहले रेड मारते हुए शौविक चक्रवर्ती और सैमुएल मिरांडा को हिरासत में ले लिया। वहीं दोनों की चार दिन की रिमांड भी एनसीबी को मिल चुकी है। आज इस पूरे मामले पर एनसीबी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसमें उन्होंने बताया कि वह अभी हाथ लगे सबूतों की जांच कर रहे हैं। जैसे-जैसे जानकारी मिलेगी वह केस में कार्रवाई को आगे बढ़ाते रहेंगे।

 

 

एनसीबी ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में साफ शब्दों में कहा कि जरूरत पड़ी तो सभी को साथ बिठाकर आमने-सामने भी पूछताछ करेंंगे। एनसीबी ने शौविक और सैमुअल के लिए 7 दिन की रिमांड की मांग की थी। जिसके बाद कोर्ट ने दोनों को चार दिन की आज्ञा देते हुए रिमांड पर भेजा है। साथ ही इस मामले में कैजान को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में लेने का भी आदेश दिया है। इसी के साथ बताया जा रहा है कि रिया को आज शाम तक समन भेजा सकता है। बता दें शौविक, सैमुअल जैद और कैजान को कोर्ट में पेश करने से पहले उनका कोरोनावायरस और मेडिकल टेस्ट हुआ था। जिसमें उनकी रिपोर्ट नेगेटिव पाई गईं थी।

ड्रग्स मामले में गिरफ्तार हुए शौविक चक्रवर्ती को बचाने के लिए चक्रवर्ती परिवार का केस लड़ रहे वकील सतीश मानशिंदे उनका पूरा बचाव कर रहे हैं। वह शौविक को कस्टडी में लेने का पूरी तरह से विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि इस पूरे ही मामले में उनका किसी से भी कोई सीधा संपर्क नहीं है। ऐसे में एनसीबी का रिमांड की मांग करना पूरी तरह से गलत है। बता दें इस पूरे मामले में अब तक 7 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। जिसमें से आज चार लोगों को कोर्ट में पेश किया जा चुका है।

 

Show More