पद्मावती की रिलीज को लेकर भंसाली की मुश्किलें बढ़ी, विरोध में चित्तौगढ़ किले में प्रवेश बंद
Bhup Singh
Publish: Nov, 17 2017 01:02:59 (IST) | Updated: Nov, 17 2017 01:18:05 (IST)
पद्मावती की रिलीज को लेकर भंसाली की मुश्किलें बढ़ी, विरोध में चित्तौगढ़ किले में प्रवेश बंद
Padmavati

'पद्मावती' की रिलीज भंसाली की मुश्किलें बढ़ी, विरोध में चित्तौगढ़ किले में प्रवेश बंद...

फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही। पद्मावती की शूटिंग से शुरू हुआ विवाद अब भी थमने का नाम नहीं ले रहा। जैसे-तैसे फिल्म शूट हो गई लेकिन अब उनकी रिलीज पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। पहले पद्मावती का विरोध करणी सेना कर रही थीं लेकिन अब पूरे भारत में इसकी रिलीज को लेकर विरोध हो रहा है। यूपी के सीएम फिल्म की रिलीज से इनकार कर चुके हैं। राजस्थान में भी पद्मावती का खासा विरोध हो रहा है। पद्मावती के विरोध के चलते शुक्रवार को राजस्थान के प्रसिद्ध चित्तौड़गढ़ किले में प्रवेश बंद कर दिया गया। ऐसा दावा किया गया है कि फिल्म में ऐतिहासिक तथ्यों के साथ छेड़छाड़ की गई है।

सर्व समाज विरोध समिति के सदस्य रणजीत सिंह ने बताया, 'हमने सुबह 10 बजे से चित्तौडग़ढ़ किले के पदन पोल गेट के नाम से पहचाने जाने वाले पहले गेट को बंद कर दिया है। हम किसी को किले में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दे रहे हैं। यह एक शांतिपूर्ण विरोध है और 6 बजे तक जारी रहेगा।' उन्होंने कहा, 'किले में आने वाले पर्यटकों को वापस जाने के लिए कहा गया।' यहां अक्टूबर से शुरू होने वाले पर्यटन सत्र में औसतन 3,000 से 4,000 से अधिक लोग किले का दौरा करते हैं।

विरोध समिति के सदस्य के.के. शर्मा ने कहा, 'हमने विरोध शुरू किया है और लगभग 400-450 लोग गेट के बाहर धरने पर बैठे हैं। दिन चढऩे के साथ-साथ संख्या में वृद्धि होने की संभावना है।'हालांकि, पुलिस का कहना है कि प्रदर्शनकारियों की संख्या 250 से ज्यादा नहीं है। प्रदर्शनकारियों की मांग है कि चित्तौडग़ढ की रानी पद्मिनी या पद्मावती के जीवन पर आधारित फिल्म रिलीज नहीं होनी चाहिए।

समिति के अन्य सदस्य ने दावा किया, 'यह स्वतंत्रता के बाद पहली बार है जब किले में प्रवेश बंद दिया गया है।' किसी अप्रिय घटना से निपटने के लिए भारी पुलिस की मौजूदगी है और किले के बाहर बाड़ लगाए गए हैं। एक ब्राह्मण समूह ने भी फिल्म पर प्रतिबंध की मांग को लेकर खून से हस्ताक्षर अभियान शुरू किया है।