लॉकडाउन के बीच पोस्ट प्रॉडक्शन का काम जारी

By: पवन राणा
| Published: 27 Mar 2020, 10:21 PM IST
लॉकडाउन के बीच पोस्ट प्रॉडक्शन का काम जारी
लॉकडाउन के बीच पोस्ट प्रॉडक्शन का काम जारी

बाहर सन्नाटा, अंदर चहल-पहल

-दिनेश ठाकुर

खाली दिमाग शैतान का घर माना जाता है, लेकिन खाली वक्त में अगर दिमाग के घोड़े रचनात्मक दिशा में दौड़ाए जाएं तो नए विचार जन्म लेते हैं, सृजन को नए आयाम मिलते हैं। बॉलीवुड की कई हस्तियां इन दिनों खाली समय का इसी तरह सदुपयोग कर रही हैं। फिल्मों के लिए नई कहानियों, नए विचारों को टटोला जा रहा है। बाहरी तौर पर तो तमाम फिल्मी कामकाज बंद है, घरों और दफ्तरों की चार दीवारी में सृजन का सिलसिला जारी है।

बड़ी प्रॉडक्शन कंपनियों का स्टाफ घरों से कामकाज निपटा रहा है। 'द शो मस्ट गो ऑन' की तरह काम भी कभी नहीं रुकना चाहिए। याद आता है कि कई साल पहले जब जापान की एक जूता कंपनी के स्टाफ ने मेहनताना बढ़ाने को लेकर हड़ताल की थी, तब भी वह रोज कंपनी की फैक्ट्री में पहुंचते थे, लेकिन सिर्फ बाएं पैर के जूते बनाते थे, ताकि कंपनी की जूता सप्लाई बंद रहे। कुछ दिनों बाद मेहनताना बढ़ाए जाने पर हड़ताल खत्म हुई तो उन्होंने दुगुनी रफ्तार से दाएं पैर के जूते बना दिए। इन जापानी कर्मचारियों ने दुनिया को बताया कि कंपनी पर दबाव बढ़ाने के लिए काम रोकना कतई जरूरी नहीं है।

इसी जज्बे के साथ बॉलीवुड के कई निर्माता, निर्देशक, लेखक और संगीतकार घर-दफ्तर में काम में जुटे हैं, ताकि हालात सामान्य होने पर फिल्मों की गाड़ी को पटरी पर लाने में ज्यादा वक्त खर्च न करना पड़े। जिन फिल्मों की शूटिंग पूरी हो चुकी है, उनके पोस्ट प्रॉडक्शन का काम तेजी से निपटाया जा रहा है। इनमें निर्देशक कबीर खान की '83' शामिल है। यह भारत को वल्र्ड कप क्रिकेट में पहली खिताबी जीत दिलाने वाले कप्तान कपिल देव की बायोपिक है। इसमें कपिल देव का किरदार रणवीर सिंह ने अदा किया है। दीपिका पादुकोण, बोमन ईरानी, नीना गुप्ता, पंकज त्रिपाठी, पार्वती नायर, अदिति आर्य वगैरह बाकी कलाकारों में शामिल हैं।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को आज सबसे धनी संस्थाओं में गिना जाता है, लेकिन 1983 में इसकी माली हालत इतनी कमजोर थी कि इसके पास वल्र्ड कप जीतने वाले खिलाडिय़ों को इनाम देने तक के लिए धन नहीं था। बीसीसीआई के तत्कालीन अध्यक्ष एन.के.पी. साल्वे की कोशिशों से दिल्ली के इंद्रप्रस्थ स्टेडियम में लता मंगेशकर का कंसर्ट आयोजित कर 20 लाख रुपए जुटाए गए और खिलाडिय़ों को एक-एक लाख रुपए इनाम के तौर पर दिए गए। उस कंसर्ट में लता मंगेशकर के साथ इन खिलाडिय़ों ने भी एक गाना 'अपना भारत विश्व विजेता' पेश किया था। एक म्यूजिक कंपनी ने इस कंसर्ट के एलपी रिकॉर्ड और कैसेट जारी किए गए। बहरहाल, '83' के अलावा विद्या बालन की 'शकुंतला देवी' और परिणीति चोपड़ा की 'द गर्ल ऑन द ट्रेन' का पोस्ट प्रॉडक्शन कार्य भी तेजी से निपटाया जा रहा है।

अनु मेनन के निर्देशन में बनी 'शकुंतला देवी' देश की गणितज्ञ शकुंतला देवी की बायोपिक है, जो 'मानव कम्प्यूटर' के तौर पर मशहूर हैं। गणित के सवाल कम्प्यूटर से भी जल्दी हल करने को लेकर उनका नाम गिनीज बुक में दर्ज है। इस फिल्म में स्पंदन चतुर्वेदी, जिशु सेनगुप्ता और सान्या मल्होत्रा ने भी अहम किरदार अदा किए हैं। निर्देशक रिभु दासगुप्ता की रहस्य-रोमांच वाली 'द गर्ल ऑन द ट्रेन' इसी नाम की 2016 में आई हॉलीवुड फिल्म से प्रेरित है। इसमें एक शराबी युवती की कहानी है, जो ट्रेन में सवार होती है और एक के बाद एक हत्याएं होने लगती हैं। यह युवती शक के घेरे में है, लेकिन क्या वही मुजरिम है? मूल फिल्म में यह किरदार एमिली ब्लंट ने अदा किया था। अपने देसी संस्करण में परिणीति चोपड़ा हैं। अदिति राव हैदरी, अविनाश तिवारी, इशिता दत्ता, कीर्ति कुलहरि वगैरह बाकी इसके बाकी कलाकार हैं। फिलहाल 'शकुंतला देवी' और 'द गर्ल ऑन द ट्रेन' के प्रदर्शन की तारीख 8 मई बताई जा रही है, लेकिन कोरोना को लेकर पहले से निर्धारित कार्यक्रमों पर जिस तरह ग्रहण लगा है, कुछ नहीं कहा जा सकता कि कौन-सी फिल्म कब सिनेमाघरों में पहुंचेगी।

Ranveer Singh