स्मिता पाटिल की मौत बनी रहस्यमयी, अर्थी को इसलिये सजाया गया था दुल्हन की तरह

By: Pratibha Tripathi
| Updated: 16 Jan 2020, 10:41 AM IST
स्मिता पाटिल की मौत बनी रहस्यमयी, अर्थी को इसलिये सजाया गया था दुल्हन की तरह
Smita Patil

  • स्मिता पाटिल का जन्म 17 अक्टूबर 1956 में हुआ था
  • स्मिता पाटिल का फिल्मी सफर सिर्फ 10 साल का रहा
  • सिर्फ 31 साल की उम्र में उनकी अचानक मौत

नई दिल्ली। बॉलीवुड के इस रंगीन पर्दे में अपनी अदाकारी का जलवा विखरने वाली एक्ट्रस स्मिता पाटील का कभी यहां राज हुआ करता था जिसका चेहरा सामने आते ही इसकी अदाकारी लफ्जों से नही बल्कि आंखों से ही बोलने लगती थी इनका अभिनय वाकई काबिले तारीफ था। उनकी दमदार अदाकारी के लोग दीवाने थे आज एक्ट्रस स्मिता हमारे बीच नही है लेकिन उनके अभिनय ने उऩ्हें हमेशा का लिये अमर बना दिया है। आज हम मरहूम एक्ट्रेस स्मिता पाटिल के बारे में कुछ ऐसी बात बता रहे है जिसे जानने के बाद आप भी हो जाएंगे हैरान।

अपने सशक्त अभिनय से अपनी खास पहचान बनाने वाली सावली सलोनी से रंग कि स्मिता के चेहरे पर हमेशा मुस्कराहट बनी रहती थी। तभी तो इनकी मां विद्या ताई पाटिल ने इनका नाम स्मिता रख दिया। यह मुस्कान आगे चलकर भी उनके व्यक्तित्व का सबसे आकर्षक पहलू बनी। स्मिता पाटिल अपने गंभीर अभिनय एंव संवेदनशील किरदारों के लिए जानी जाती थी। स्मिता पाटिल का फिल्‍मी करियर भले ही बहुत ही कम समय का रहा हो लेकिन उनकी दमदार अदाकारी ने लोगों के जेहन में एक खास जगह बनाई हैं। जिसे आज तक कोई नही भूल पाया है। हालांकि मात्र 31 साल की उम्र में वे इस दुनिया को अलविदा कह गईं। लेकिन अचानक हुई उनकी मौत आज भी रहस्यमयी है।

स्मिता पाटिल के बारे में कहा जाता है कि जब वो एक बच्चे की मां बनी थी उसी दौरान उनको वायरल इन्फेक्शन की वजह से ब्रेन इन्फेक्शन हुआ था। प्रतीक के पैदा होने के बाद वो घर आ गई थीं। और घऱ आने के बाद ही उनके शरीर में इन्फेक्शन तेजी से फैल गया था उन्हें जब हॉस्पिटल ले जाने के लिये कहा गया तो वो अपने मासूम से बच्चे को छोड़कर जाने को तैयार नहीं हुई। जिसके चलते इन्फेक्शन तेजी से बढ़ने लगा। जब उन्हें जसलोक हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। तो उनके शरीर के अंग एक के बाद एक फेल होते चले गए।' जीवन के आखिरी दिनों में स्मिता का राजबब्बर के साथ रिश्ता भी ज्यादा खास नही चल रहा था।

स्मिता पाटिल की एक बात जो आगे चलकर सच साबित हुई
बताया जाता है कि एक बार स्मिता पाटिल ने राज कुमार को एक फिल्म में लेटकर मेकअप कराते हुए देखा था तब उन्होनें अपने मेकअप आर्टिस्ट दीपक सावंत से कहा था कि मेरा भी इसी तरह से मेकअप करो तो मैंने कहा कि मैडम मुझसे ये नहीं होगा। ऐसा लगेगा जैसे किसी मुर्दे का मेकअप कर रहे हैं।'और उनकी यह इच्छा भी थी कि उनका मेकअप इसी तरह से किया जाए। लेकिन उनका मेकअप उसी मेकअप आर्टिस्ट ने किया जब उनके शव को सुहागन बनाकर अतिम विदाई देनी थी। शायद ही दुनिया में ऐसा कोई मेकअप आर्टिस्ट होगा जिसने इस तरह से मेकअप किया हो।' स्मिता के शव का उसी तरह से मेकअप किया गया।

Show More