विक्की कौशल बोले-सक्सेस के साथ आती हैं आलोचनाएं पर अगर आप...!
Bhup Singh
| Updated: 12 Oct 2019, 04:09:20 PM (IST)
विक्की कौशल बोले-सक्सेस के साथ आती हैं आलोचनाएं पर अगर आप...!
इस फिल्म के लिए विक्की ने घटना 13 किलो वजन, देखकर पहचान नहीं पाएंगे,डेढ़ महीने बाद विक्की कौशल ने बताई कथित ड्रग पार्टी के वीडियो की सच्चाई, करण जौहर ने कहा-बर्दाश्त नहीं करेंगे

विक्की ने कहा,'मैं सक्सेस को एन्जॉय करना चाहता हूं और इसलिए मैं अपने काम पर फोकस रखता हूं। मुझे पहली ही फिल्म से सफलता मिली थी, जिसे मैं बरकरार रखना चाहता हूं। क्योंकि मुझे जो सम्मान मिल रहा है वो सिर्फ मेरे काम की वजह से है। अगर मैं अपने काम पर फोकस नहीं रखता हूं तो ये सब नहीं होगा।'अभिनेता का कहना है कि सक्सेस के साथ आलोचना भी होती हैं। वह आलोचनाओं को सक्सेस का हिस्सा मानते हैं....

अभिनेता विक्की कौशल ने पिछले चार वर्षों में अपनी दमदार एक्टिंग के दम पर इंडस्ट्री में सफलता का स्वाद चखा है। वह अपने दम पर ब्लॉकस्टर फिल्म 'उरी : सर्जिकल स्ट्राइक' दे चुके हैं। जिसके लिए वह बेस्ट एक्टर का नेशनल अवॉर्ड जीत चुके हैं। अभिनेता का कहना है कि सक्सेस के साथ आलोचना भी होती हैं। वह आलोचनाओं को सक्सेस का हिस्सा मानते हैं। विक्की ने कहा, 'अगर वाकई आलोचना सही होती है तो निश्चित रूप से आपको अपनी कमियों को दूर करने का प्रयास करना चाहिए।' अगर क्रिटिसिज्म गुस्से का हिस्सा नहीं तो आपको इस पर विचार करना चाहिए। अगर आपको यह समझ आता है यह आलोचना सही तो आप विश्वास करते हैं। आगे चलकर आपको उन आलोचनाओं पर काम करना चाहिए। अगर आलोचनाएं गलत तो उसे नदरअदांज कर देना चाहिए। वरना उससे आपका काम प्रभावित होगा।

vicky kaushal

31 वर्षीय अभिनेता विक्की को जो हाल ही म्यूजिक वीडियो 'पछताओगे' में नोरा फतेही के साथ दिखे थे। एक्टर का कहना है कि क्रिटिसिज्म एक कलाकार के जीवन का हिस्सा है। क्रिटिसिज्म आपके आगे बढ़ने में महत्वपूर्ण रोल अदा करता है। बस आपको इसकी समझ होनी चाहिए। विक्की ने साल 2015 में आई फिल्म 'मसान' से बॉलीवुड की दुनिया में कदम रखा था। वह अब कई फिल्में हिट हो चुके हैं और सभी एक-दूसरे से अलग हैं जिसमें 'उरी','राजी','संजू' और 'मरजावां' जैसी फिल्में शामिल हैं।

Vicky Kaushal

विक्की ने कहा,'मैं सक्सेस को एन्जॉय करना चाहता हूं और इसलिए मैं अपने काम पर फोकस रखता हूं। मुझे पहली ही फिल्म से सफलता मिली थी, जिसे मैं बरकरार रखना चाहता हूं। क्योंकि मुझे जो सम्मान मिल रहा है वो सिर्फ मेरे काम की वजह से है। अगर मैं अपने काम पर फोकस नहीं रखता हूं तो ये सब नहीं होगा।'

Show More