अजय देवगन की दिल्ली में हुई पिटाई के दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो है फेक, एक्टर की टीम ने जारी किया बयान

मुंबई। सोशल मीडिया पर एक वीडियो बेहद तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें दो पक्षों को आपस में मारपीट करते देखा जा सकता है। कुछ लोग इस वीडियो को इस दावे के साथ शेयर कर रहे हैं कि इस वीडियो में पीटते हुए दिखने वाला शख्स बॉलीवुड अभिनेता अजय देवगन हैं। हालांकि एक्टर की टीम ने बयान जारी कर साफ किया है कि इस वीडियो अजय नहीं हैं। वे अपनी फिल्मों की शूटिंग में व्यस्त हैं।

ये है वायरल वीडियो की सच्चाई
सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा ये वीडियो दिल्ली के एट्रोसिटी मॉल के बाहर का है। इस वीडियो में कुछ लोग आपस में मारपीट करते देखे जा सकते हैं। बताया जाता है कि मॉल के बाहर आपस में गाड़ी टच हो जाने के बाद लोग आपस में भिड़ गए। इस मामले में दो लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इंडिया टुडे के अनुसार, एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि दोनों पार्टियों में से किसी ने शिकायत दर्ज नहीं करवाई है, लेकिन पुलिस ने कोरोना वायरस प्रोटोकाल व अन्य सेक्सन के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। गिरफ्तार दो में जनकपुरी का रहने वाला तरनजीत सिंह और छवला गांव का नवीन कुमार है।

यह भी पढ़ें:Video: अजय देवगन की कार रोक किसान समर्थक ने कहा-आप पंजाब के खिलाफ हो, शर्म करो

अजय की टीम ने जारी किया बयान
अभिनेता अजय देवगन की टीम ने इस वीडियो में अजय के पीटने के दावों के बाद बयान जारी किया है। इस बयान में कहा गया है कि इस वीडियो में अजय देवगन नहीं हैं। वे पिछले 14 महीने में दिल्ली गए ही नहीं हैं। बयान के अनुसार, जनवरी, 2020 में 'तान्हाजी-द अनसंग वॉरियर' के प्रमोशन के बाद एक्टर-फिल्ममेकर अजय देवगन दिल्ली नहीं गए हैं। इसलिए दिल्ली के पब के बाहर मारपीट में अजय देवगन होने की मीडिया रिपोर्ट्स आधारहीन और झूठ हैं। हम न्यूज एजेंसीज और मीडियो से निवेदन करते हैं कि नोट कर लें, मिस्टर देवगन 'मैदान', 'मेडे' और 'गंगूबाई काठियावाड़ी' की शूटिंग में व्यस्त हैं। उन्होंने 14 महीने से दिल्ली में कदम नहीं रखा है। सभी मीडिया से रिक्वेस्ट है कि कुछ भी प्रकाशित करने से पहले क्रॉस-चैक कर लें।

यह भी पढ़ें: अजय देवगन के बेटे की PM Modi ने की प्रशंसा, तारीफ में कही ये बात

गौरतलब है कि इसी महीने की शुरूआत में अजय की कार को एक राजदीप रमेश सिंह नाम के शख्य ने मुंबई की फिल्म सिटी के बाहर रोका था। करीब 15 मिनट तक अजय कार में बैठे रहे और शख्स अजय के किसानों के पक्ष में नहीं बोलने का लेकर एक्टर को कोसता दिखाई दिया। पुलिस ने इस श्ख्स को गिरफ्तार कर लिया था। हालांकि बाद में उसको बेल पर छोड़ दिया गया।