Budget 2021: स्वास्थ्य सेवाओं पर होगा विशेष जोर, घटेंगी गंभीर बीमारियों की दवाओं की कीमत!

बीते साल कारोना काल में मास्क, हैंड सेनेटाइजर, फेसशील्ड जैसे सामान खूब बिके।
सरकार के बजट 2021 में स्वास्थ्य सेवाओं पर विशेष जोर हो सकता है।
गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोगों पर कोरोना ने गहरा प्रभाव छोड़ा।

 

By: Shaitan Prajapat

Published: 30 Jan 2021, 03:02 PM IST

नई दिल्ली। साल 2020 कोरोना वायरस महामारी से जूझते हुए निकला गया। बीते साल कारोना काल में मास्क, हैंड सेनेटाइजर, फेसशील्ड जैसे सामान खूब बिके। इस महामारी के कारण कई तरह को काफी बिजनेस नुकसान हुआ है। नरेंद्र मोदी सरकार के अगले बजट 2021 में स्वास्थ्य सेवाओं और नौकरी देने वाले सेक्टरों पर विशेष जोर हो सकता है। गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोगों पर कोरोना ने गहरा प्रभाव छोड़ा। विशेषज्ञों का मानना है कि स्वास्थ्य सेवाओं पर इस बार के आम बजट में फोकस होगा। माना जा रहा है कि इस बार बजट में गंभीर बीमारियों की दवाओं की कीमत कम की जाएंगी।

घटाने चाहिए इन दवाओं की कीमत
आगामी बजट को लेकर दवाओं के कारोबारियों के साथ आमजन को काफी उम्मीदें है। पश्चिम विहार के केमिस्ट प्रयांश गुप्ता का मानना है कि इस साल केमिस्ट को सरकार से काफी आशा है। सरकार को अपने आगामी बजट में गंभीर बीमारियों की दवाई के दाम घटनो चाहिए। उन्होंने कहा कि बजट में कुछ इस तरह का प्रावधान होना चाहिए कि कैंसर, हार्ट, किडनी रोग आदि की दवाएं सस्ती हो। पिछले साल कुछ दवाइयों की कमी भी मेडिकल स्टोर पर महसूस हुई। तब भी कोरोना काल में केमिस्टों ने घर-घर दवाइयां पहुंचाईं। अगर सरकार इन दवाओं की रेट में कमी करती है तो इसका आमलोगों ज्यादा फायदा होगा।

 

यह भी पढ़े :— ये है ब्लैक एलियन! टैटू के चक्कर में कर ली जिंदगी खराब, अब बोलने में हो रही है परेशानी

फार्मा कंपनियों और केमिस्ट
सरकार के आगामी बजट को लेकर फार्मा कंपनियों और केमिस्ट को लेकर भी खासा उम्मीदे है। ऑल इंडिया केमिस्ट एंड डिस्ट्रीब्यूटर फेडरेशन के अध्यक्ष कैलाश गुप्ता का मानना है कि केमिस्टों के लिए बीता साल ठीक था। कोरोना के कारण दवाइयां ज्यादा नहीं बिकी हो सकी। लेकिन मास्क, सैनिटाइजर, ग्लव्स, थर्मल स्कैनर, नेबुलाइजर और इम्युनिटी बूस्टर जैसी दवाइयों का अच्छा बिजनेस हुआ है। फार्मा कंपनियों की सेल डाउन रही। आगामी बजट से ज्यादा उम्मीद की जा रही है।

Narendra Modi
Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned