Bulandshahr: भ्रष्टाचार के आरोप में SSP ने इंस्‍पेक्‍टर और सिपाही को किया सस्‍पेंड- Video

Highlights

  • नरसेना थाना प्रभारी पर युवक ने लगाए गंभीर आरोप
  • Gautam Budh Nagar के युवक को रात भर बैठाया था थाने में
  • थाना प्रभारी पर 50 हजार रुपये लेने का लगाया आरोप

By: sharad asthana

Updated: 03 Jan 2020, 10:52 AM IST

बुलंदशहर। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) भ्रष्टाचार को लेकर सख्त दिखाई दे रहे हैं। भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारियों के खिलाफ लगातार कार्रवाई भी की जा रही है। इसके चलते बुलंदशहर एसएसपी (Bulandshahr SSP) ने नरसेना इंस्पेक्टर और एक सिपाही को भ्रष्टाचार के आरोप में निलंबित कर दिया है।

यह भी पढ़ें: Noida SSP के कथित वीडियो वायरल होने का मामला- Ghaziabad SSP ने उच्‍चाधिकारियों को भेजा पत्र

नरसेना थाना क्षेत्र में चेकिंग के नाम पर रोका

बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह बताया कि उनके ऑफिस में 31 दिसंबर को कविन्द्र पुत्र जितेन्द्र निवासी ग्राम सैनी थाना ईकोटेक-3 जनपद गौतम बुद्ध नगर (Gautam Budh Nagar) ने एक शिकायती प्रार्थनापत्र दिया था। इसमें बताया गया था कि वह 24 दिसंबर को शाम करीब 5 बजे अपनी पत्‍नी, महिला और पुरुष मित्र के साथ थाना नरसेना क्षेत्र से गुजर रहा था। इस बीच थाना नरसेना पुलिस ने चेकिंग के दौरान उसकी गाड़ी रोक ली। उसको चेक किया गया। गाड़ी में कोई आपत्तिजनक सामान नहीं मिला। गाड़ी के पेपर उसके पास नहीं थे। दोनों महिलाओं को नरसेना थाना प्रभारी ने उनके घर छुड़वा दिया। इसे बाद कविन्द्र को गाड़ी समेत थाने ले गए। वहां रात भर उनको रखा गया। आरोप है कि दूसरे दिन सुबह नोएडा से आए उसके भाई से थाना प्रभारी ने 50 हजार रुपये लिए और 151 में चालान कर दिया। गाड़ी का भी चालान किया गया।

यह भी पढ़ें: Moradabad: उड़ीसा से चावलों के बीच संभल जा रही थी करोड़ों के गांजे की खेप, पांच गिरफ्तार

थाना प्रभारी की भूमिका संदिग्‍ध मिली

एसएसपी ने कहा कि प्रथम दृष्‍टया जांच में थाना प्रभारी की भूमिका संदिग्‍ध पाई गई। लेन-देन के संबंध में कोई ठोस सबूत नहीं मिले हैं। घटनाक्रम की वजह से थाना प्रभारी की भूमिा संदिग्‍ध लगी। इस वजह से थाना प्रभारी नरसेना संजय कुमार और सिपाही मनीष कुमार को तत्काल प्रभाव से निलबिंत किया गया है। अगर कोई पुलिस का कर्मचारी भ्रष्टाचार में लिप्त पाया जाता है तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned