पत्नी व बहन के साथ पड़ोसियों ने की छेड़छाड़ और मारपीट तो छुट्टी लेकर आया फौजी, फिर जो हुआ...

पत्नी व बहन के साथ पड़ोसियों ने की छेड़छाड़ और मारपीट तो छुट्टी लेकर आया फौजी, फिर जो हुआ...

Rahul Chauhan | Publish: Jul, 11 2019 07:17:44 PM (IST) | Updated: Jul, 11 2019 07:23:38 PM (IST) Bulandshahr, Bulandshahar, Uttar Pradesh, India

खबर की मुख्य बातें-

-फौजी की पत्नी और बहन के साथ पड़ोस के दबंग लोगों द्वारा मारपीट और छेड़छाड़ करने का मामला सामने आया है

-आरोप है थाने में उनकी एफआईआर दर्ज नहीं की गई

-जिसके बाद एफआईआर दर्ज कराने के लिए फौजी छुट्टी लेकर बुलंदशहर आया

बुलंदशहर। जनपद में मारपीट और छेड़छाड़ की घटना रुकने का नाम नहीं ले रही है। ताजा मामला थाना सलेमपुर क्षेत्र का है। जहां फौजी की पत्नी और बहन के साथ पड़ोस के दबंग लोगों द्वारा मारपीट और छेड़छाड़ करने का मामला सामने आया है। आरोप है थाने में उनकी एफआईआर दर्ज नहीं की गई। जिसके बाद एफआईआर दर्ज कराने के लिए फौजी छुट्टी लेकर बुलंदशहर आया और अब थाने-चौकी के चक्कर काट रहा है।

यह भी पढ़ें : मां ने शराब पीने से मना किया तो कलयुगी बेटे ने पेट्रोल छिड़कर किया आग के हवाले

जानकारी के मुताबिक एक गांव में रविवार को फौजी के बेटे को पड़ोसी ने मामूली विवाद पर जमकर पीटा। आरोप है कि जब इसका विरोध किया गया तो फौजी की बहन और पत्नी के साथ भी मारपीट और छेड़खानी की गई। जिसकी शिकायत फौजी के भाई द्वारा सलेमपुर थाने में की गई। आरोप है कि शिकायत पर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। उसके बाद फौजी छुट्टी के लेकर बुलंदशहर अपने गांव पहुंचा और अब फौजी थाने-चौकी के चक्कर काट रहा है।

यह भी पढ़ें : इस आतंकवादी का यूपी के अस्पताल में कड़ी सुरक्षा के बीच हुआ ऑपरेशन

इससे परेशान होकर फौजी बुलंदशहर एसएसपी ऑफिस पहुंचा और अपने परिवार की सुरक्षा व कार्रवाई की गुहार लगाई। फौजी का दावा है कि परिवार पिछले कई दिन से पुलिस चौकी के चक्कर काट रहा है और फिर भी कार्रवाई नहीं होने के बाद वह पुलिस ऑफिस आए हैं। यहां उन्होंने अपने परिवार की सुरक्षा की मांग की है। उधर, इस मामले में सीओ शिकारपुर ने पीड़ित फौजी की तहरीर पर मारपीट और छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज करने के आदेश कर दिए हैं।सीओ मनीष कुुमार यादव का कहना है कि पीड़ित परिवार उनसे मिला है और उसकी तहरीर पर सलेमपुर को मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करने के आदेश दे दिए हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned