अब नहीं छूटेगा एक भी कोरोना पीड़ित, शुरू हुई डोर-टू-डोर थर्मल स्क्रीनिंग

  • जांच टीम में सुरक्षा के मुद्दे पुलिस का जवान भी होगा शामिल
  • जांच टीम से घटराए नहीं, सहयोग कर उठाए स्वास्थ लाभ

By: Iftekhar

Published: 18 Apr 2020, 07:21 PM IST

बुलंदशहर. देश में कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए प्रशासन ने कमर कस ली है। बुलंदशहर जिलाधिकारी के आदेशानुसार पूरे जिले में डोर-टू-डोर थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। इसी कड़ी में शनिवार को उपजिलाधिकारी खुर्जा ईशा प्रिया की मौजूदगी में मेडिकल टीम ने थर्मल स्क्रीनिंग की गई। डीएम के आदेश पर खुर्जा तहसील में 6 टीमें बनाई गई हैं। प्रत्येक टीम में 6 लोग शामिल हैं, जो शहरी और ग्रामीण इलाकों में जाकर डोर-टू-डोर लोगों की जांच करेगी। 6 लोगों की टीम में चार मेडिकल स्टाफ सहित एक लेखपाल और एक सिपाही शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: - प्यर ने लॉकडाउन को दी मात, जानिए दिल्ली के दूल्हे ने मुजफ्फरनगर पहुंचकर कैसे रचाई शादी

एसडीएम खुर्जा ने बताया कि खुर्जा तहसील अभी ग्रीन ज़ोन में हैं। यहां अभी कोई कोरोना संक्रमित नहीं मिला है। कोरोना की रोकथाम के लिए घर-घर जाकर लोगों की जांच की जाएगी। यदि कोई भी व्यक्ति जांच में संदिग्ध नज़र आता है या उसमें कोरोना का कोई लक्षण दिखता है तो उसको तुरंत इलाज के लिए क्वारंटीन किया जाएगा, ताकि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

यह भी पढ़ें- लॉकडाउन में लोगों के घरों में होने से इनकी बढ़ी मुसीबत, तो पर्यावरण योद्धा बने रहबर

वहीं, क्षेत्राधिकारी खुर्जा सुरेश कुमार ने बताया कि सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए डीएम के आदेश पर टीम के साथ एक सिपाही को भी साथ भेजा जाएगा। इसके अलावा जिस इलाके में मेडिकल टीम जांच लिए जाएगी, उस क्षेत्र के थानाध्यक्ष या चौकी प्रभारी फोर्स के साथ सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे, ताकि मेडिकल टीम को जांच के दौरान किसी प्रकार की समस्या न हो।

Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned