निश्चलानंद सरस्वती जी महाराज बोले-CoronaVirus से बचने के लिए करें ये उपाय

Highlights
. बुलंदशहर पहुंचे निश्चलानंद सरस्वती जी महाराज
. मीडिया से रूबरु होने के दौरान कोरोना वायरस से बचाव के बताए टिप्स
. चमगादड़ और मांस खाने से पैदा होते हैं वायरस

By: virendra sharma

Updated: 19 Mar 2020, 09:37 PM IST

बुलंदशहर। दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस से बचने के लिए श्री निश्चलानंद सरस्वती जी महाराज ने कहा कि भारतीय संस्कृति का इस्तेमाल करना होगा। साथ ही यज्ञ आदि करने होंगे। तभी इस महामारी से बचाव होगा। बुलंदशहर पहुंचे निश्चलानंद सरस्वती जी महाराज ने पत्रकारों को संबोधित किया।

उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी में संयुक्त परिवार खत्म हो रहे है। एकल फैमिली बढ़ने से कुलदेवता और कुलदेवी की मान्यता खत्म हो रही है। वन पर्वत गंगा—यमुना आदि खत्म हो रहे है। उन्होंने कहा कि गंगा के किनारे रहने वाले लोग कैंसर के शिकार हो रहे हैं। साथ ही चमगादड़ और कुत्तों के मांस खाने से वायरस के शिकार हो रहे है। आहार को संतुलन भी लोगों को करना होगा। उन्होंने कहा कि मनुस्मृति में साफ लिखा है कि महायंत्रों का अविष्कार और प्रयोग बंद होना चाहिए। उन्होंने निवारण बताते हुए कहा कि भारतीय संस्कृति का पालन करना होगा।

गोमूत्र और देसी गाय की गोबर की चटाई पर लौटने, शुद्ध मिट्टी से हाथ धोने, राम-राम करने, हाथ व गले मिलने हमारी संस्कृति रही है।

यह भी पढ़ें: फ्रांस से गाजियाबाद लौटे डॉक्टर ने आइसोलेशन वार्ड में भर्ती होने से किया इंकार, स्वास्थ्य विभाग जांच में जुटा

virendra sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned