गरीबों को मदद दिलाने के नाम पर वसूली, आरोपी रंगेहाथ हुआ गिरफ्तार, वसूल रहा था इतनी रकम

  • वसूली की शिकायत मिलने के बाद ईओ ने आरोपी को बदोचकर किया पुलिस के हवाले

By: Iftekhar

Published: 23 May 2020, 12:04 PM IST

 

बुलंदशहर. महामारी काल में गरीबों के लिए आम आदमी ही नहीं सरकार ने भी खजाना खोल रखा है। मगर आपदा की इस मुश्किल घड़ी में भी कुछ लोग पीएम राहत के नाम पर गरीब मजदूरों से अवैध वसूली करने में लगे हुए हैं। ताजा मामला यूपी के बुलंदशहर का है, जहां नगर पालिका दफ्तर में नगरपालिका का कर्मचारी बनकर एक युवक ग़रीब मजदूरों से अवैध वसूली करता पकड़ा गया। ईओ ने आरोपी युवक को पकड़वाकर पुलिस की सुपुर्दगी में दे दिया है। पुलिस जांच में जुट गई है।

यह भी पढ़ें: UP Board Result 2020: कॉपियों के मूल्यांकन का काम खत्म, जून में आएगा रिजल्ट

लाभ दिलाने के लिए गरीबों से वसूल रहा था 20, 30 औऱ 50 रुपये
पुलिस हिरासत में खड़े जिस युवक को आप तस्वीरों में देख रहे हैं। दरअसल, यह युवक सरकार की तरफ से मिलने वाली आर्थिक मदद के लिए फॉर्म भरवाने के नाम अवैध वसूली कर रहा था। जैसे ही इसकी शिकायत नगर पालिका प्रशासन के पास पहुंची तो ईओ नगर पालिका निहाल चंद कर्मचारियों के साथ वहां पहुंचे और युवक को गरीबों से अवैध वसूली करते रंगे हाथ पकड़ लिया। पूछताछ के बाद ईओ ने मौक़े पर पुलिस को बुलाया और युवक को पुलिस की सुपुर्द कर दिया। आपको बता दें आरोपी युवक गरीब मजदूरों से 20, 30 औऱ 50 रुपये तक वसूल रहा था। गरीबों को सरकार की तरफ से मिलने वाले एक-एक हज़ार रुपये दिलवाने और योजना का फार्म भरवाने के नाम पर वह गरीब मजदूरों से वसूली कर रहा था।

कोरोना फ्री हुए इस जिले में एक साथ सामने आए 17 केस, मचा हड़कम्प

पुलिस के हत्थे चढ़ा युवक ईओ निहाल चंद ने बताया कि जिस युवक को गिरफ्तार किया गया है। वह पूर्व में नगर पालिका में ही संविदा पर काम करता था। दो साल पहले वसूली की शिकायत के आधार पर युवक को नगर पालिका से बाहर कर दिया गया था। एक बार फिर लगातार शिकायत मिल रही थी कि युवक नगर पालिका में सरकारी योजनाओं के फॉर्म और लाभ दिलवाने के लिए गरीब मजदूरों से अवैध वसूली कर रहा है। इसके बाद आरोपी को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया गया है। हालांकि, आरोपी युवक का दावा कि वह कागज पूरा कराने के लिए गरीब मजदूरों से रुपये ले रहा था। लोग अपनी मर्ज़ी से उसको 10, 20, 30 औऱ 50 रुपये दे देते हैं।

Show More
Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned