भ्रूण परीक्षण में चिकित्सक की भूमिका को मान रहे संदेहास्पद

Narendra Agarwal

Publish: Feb, 15 2018 01:02:29 PM (IST)

Bundi, Rajasthan, India
भ्रूण  परीक्षण में चिकित्सक की भूमिका को मान रहे संदेहास्पद

बूंदी. भ्रूण परीक्षण के मामले में महिला दलाल को जेल भेजने के बाद पीसीपीएनडीटी प्रकोष्ठ की निगाह अब सोनोग्राफी जांच

बूंदी. भ्रूण परीक्षण के मामले में महिला दलाल को जेल भेजने के बाद पीसीपीएनडीटी प्रकोष्ठ की निगाह अब सोनोग्राफी जांच करने वाले चिकित्सक पर है। विज्ञान नगर स्थित सायन सोनोग्राफी एण्ड डायग्नोस्टिक सेंटर पर बोगस ग्राहक गर्भवती महिला की सोनोग्राफी जांच हुई थी। ऐसे में यहां के चिकित्सक की भूमिका को संदेहास्पद मानकर जांच की जा रही है।
इसके लिए पीसीपीएनडीटी टीम व जयपुर पीबीआई थाना के अधिकारियों ने सोनोग्राफी सेंटर पर मशीन में लगे एक्टिव ट्रैकर से तमाम डाटा ले लिया है। बीते तीन से चार दिन का डाटा लेकर टीम जयपुर रवाना हो गई है। जयपुर में विशेषज्ञों से जांच करवाई जाएगी, जिसमें स्पष्ट होगा कि भ्रूण ***** परीक्षण हुआ है या नहीं। यदि चिकित्सक ने भू्रण ***** परीक्षण किया होगा तो जांच के दौरान संबंधित हिस्से पर चार से पांच बार मशीन को घूमाया होगा। ताकि यह पता चल सके कि गर्भ में लडक़ा है या लडक़ी। इससे चिकित्सक की भूमिका स्पष्ट होगी। गौरतलब है कि १२ फरवरी को कोटा के सोनोग्राफी सेंटर पर भू्रण जांच करते पीसीपीएनडीटी टीम ने कोटा निवासी महिला दलाल शांतिरानी को गिरफ्तार किया था। दलाल ने भू्रण परीक्षण की एवज में २५ हजार रुपए लिए थे।

Read more : वाहनों में नहीं लग रही हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट ,साधारण नम्बर प्लेट लगवाने की मजबूरी

जमानत पर सुनवाई आज
बूंदी पीसीपीएनडीटी जिला समन्वयक राजीव लोचन गौतम ने बताया कि महिला दलाल शांतिरानी को जेल भेजने के बाद परिवार जनों ने पीसीपीएनडीटी न्यायालय में उसकी जमानत याचिका लगाई थी। गुरुवार को उस पर सुनवाई होगी। न्यायालय में पीसीपीएनडीटी विभाग की ओर से एफआईआर, जब्त दस्तावेज व बयान सहित पूरी डायरी पेश की जाएगी।

read more : नगर परिषद ने कसी कमर, स्वच्छता टीम पहुंची घर-घर, किए सवाल-जवाब

मान रहे हैं संदिग्ध
चिकित्सक की भूमिका संदिग्ध मानी जा रही है। सोनोग्राफी सेंटर से समस्त डाटा रिकवर किया है, जिसकी जांच करवाएंगे। यदि उसके खिलाफ कोई सबूत मिलता है तो कार्रवाई होगी।
सीताराम, पुलिस निरीक्षक पीबीआई थाना जयपुर

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned