-केशवरायपाटन में ५ व बूंदी में ४ इंच बारिश
-जैतसागर व नवलसागर में जोरदार आवक
-मेज व घोड़ा पछाड़ नदी में उफान से आधा दर्जन रास्ते बंद
बूंदी. बारिश की झड़ी ने शनिवार को जिला तरबतर कर दिया। शुक्रवार रात दस बजे शुरू हुआ बारिश का दौर शनिवार शाम तक जारी रहा। कई इलाकों में पानी जमा हो गया। नदियों में आए उफान से रास्ते बंद हो गए। मुरझाई फसलों को फिर से जीवनदान मिल गया। बांध-तालाबों में पानी की जोरदार आवक शुरू हो गई है।
बूंदी शहर में बारिश के बाद लोगों के चेहरे पर खुशी दिखाई पड़ी। लोग दिनभर बारिश में नहाने का लुत्फ उठाते दिखाई दिए। बारिश की झड़ी लगी रहने के बाद बाजार जल्द बंद हो गए। बूंदी शहर की नवल सागर और जैतसागर में पानी की जोरदार आवक हुई। शाम को जैतसागर झील के तीन गेट खोले गए, इससे निचली बस्तियों में पानी जमा हो गया। शनिवार को शाम पांच बजे तक बीते चौबीस घंटे में बूंदी में ९६, तालेड़ा में ८५, केशवरायपाटन में ११७, इंद्रगढ़ में ८४, नैनवां में ५४ और हिण्डोली में ६६ मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मेज नदी में आए उफान के बाद चार बजे से खटकड़-झालीजी का बराना, दोपहर डेढ़ बजे से कालानला-बांसी और घोड़ा पछाड़ नदी में उफान के बाद नमाना-श्यामू मार्ग बंद हो गए। शाम को बूंदी-नमाना मार्ग पर भी आवागमन ठप हो गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned