बूंदी की कृषि उपज मंडी से काश्तकारों के लिए आई यह खबर...सुनकर मिल गई ऐसी राहत कि...

pankaj joshi | Publish: Apr, 12 2019 12:53:09 PM (IST) | Updated: Apr, 12 2019 12:53:10 PM (IST) Bundi, Bundi, Rajasthan, India

कुंवारती स्थित बूंदी की कृषि उपज मंडी में गुरुवार को जिसों की नीलामी होने के बाद किसानों ने राहत की सांस ली। मंडी में दूसरे दिन जिंसों की नीलामी हुई।

बूंदी.कुंवारती स्थित बूंदी की कृषि उपज मंडी में गुरुवार को जिसों की नीलामी होने के बाद किसानों ने राहत की सांस ली। मंडी में दूसरे दिन जिंसों की नीलामी हुई।
मंडी में बुधवार को जिंस बेचने आए किसानों को अचानक मंडी बंद होने से रातभर पड़ा रहना पड़ा। गुरुवार को जब नीलामी शुरू हुई तो सभी ने राहत की सांस ली। बुधवार को मंडी में करीब70 हजार बोरी जिंस की आवक हुई थी। हड़ताल की सूचना से दूसरे दिन मात्र 10 हजार बोरी की ही आवक हुई। तय समय के अनुसार सुबह दस बजे व्यापारियों ने मंडी में गेहूं बोली शुरू की।
खरीद किए गए माल का परिवहन भी पूर्ववत रहा, लेकिन मंडी में माल बेचने आए किसानों को शुक्रवार को मंडी में खरीद को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं कर पाए। सभी वर्ग के लोग प्रशासन से पांच बजे वार्ता होने के बाद ही आगे के निर्णय की बात कहते नजर आए।
लगाया टेंट
मंडी में छाया के लिए प्रशासन ने आपणी रसोई के निकट टेंट लगा दिया। मुनीम संघ व अन्य वर्ग के लोग मंडी में छाया के लिए कई दिनों से मांग करते चले आ रहे थे।
सभी पक्षों के बीच हुई वार्ता
मंडी के सुचारू संचालन को लेकर गुरुवार शाम को प्रशासनिक अधिकारियों व मंडी के व्यापारियों, ट्रक यूनियन सहित अन्य पदाधिकारियों के बीच वार्ता हुई। वार्ता में अतिरिक्त जिला कलक्टर सीलिंग शिवदत्त गौड़, जिला परिवहन अधिकारी सुधीर बंसल, मंडी सचिव एम.एल. जाट, चावल उद्योग संघ अध्यक्ष राजेश तापडिय़ा, आढ़तिया संघ उपाध्यक्ष रोहित झालानी, सचिव प्रहलाद नागर, व्यापारी उत्तम जेठवानी, प्रदीप ज्ञानचंदानी, ट्रक यूनियन अध्यक्ष पप्पू, सचिव रतनलाल हाड़ा शामिल हुए। वार्ता में पूर्व की माल परिवहन व्यवस्था में कुछ संसोधनों के साथ ट्रक यूनियन व व्यापारियों को आपसी समझाइश करके मंडी सुचारू चलाने पर सहमति बनी।
शाम को प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में व्यापारी और ट्रक यूनियन के बीच वार्ता हो गई, जिसमें दोनों पक्षों ने आपसी सहमति से माल परिवहन के विवाद को सुलझाने की हां भरी है। इस विवाद का मंडी पर कोई असर नहीं आएगा। जिंसों की खरीद सुचारू रूप से होगी।
एम.एल. जाट, सचिव, कृषि उपज मंडी, बूंदी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned