बूंदी में भाजपा का सवाल : केंद्र के विरुद्ध धरना-प्रदर्शन की खुली छूट, प्रदेश सरकार के विरुद्ध हो तो मुकदमे दर्ज!

लोकतान्त्रिक विरोध प्रदर्शन दमन के लिए कोविड गाइड लाइन के मद्दे नजर दोहरे मापदंड अपनाने पर भाजपा नेताओं में आक्रोश

By: Nagesh Sharma

Published: 04 Oct 2021, 04:12 PM IST

बूंदी. प्रदेश में कोविड गाइड लाइन की पालना का हवाला देकर राज्य सरकार की ओर से भाजपा कार्यकर्ताओं पर दर्ज कराए मुकदमे को लेकर आक्रोश जताया है। भाजपा ने विरोधियों का दमन करने के लिए दोहरे मापदण्ड अपनाकर प्रदेश सरकार के कानून का मनमाना उपयोग विरोधियों के विरुद्ध हथियार के तौर करने का आरोप लगाया है।

भाजपा नेता रूपेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश में सत्ताधारी कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं को केंद्र के विरुद्ध धरना -प्रदर्शन की प्रदेश सरकार की और से अघोषित तौर पर खुली छूट मिली हुई है, लेकिन उसी प्रदेश में यही प्रदर्शन यदि भाजपा कार्यकर्ता राज्य की सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी की प्रदेश सरकार और उसके शासन-प्रशासन के विरुद्ध करते है तो कोरोना गाइड लाइन के उलंघन का हवाला देकर उन भाजपा के अनेक कार्यकर्ताओं पर मुकदमे दर्ज किए जा रहे हंै। सोमवार को भाजपा नेता रुपेश शर्मा ने जारी किए बयान में कहा कि अभी कुछ दिनों पहले कोटा में बिगड़ती कानून व्यवस्था व बदहाल सडक़ों की दशा सुधार की मांग को लेकर कोटा कलेक्ट्रेट पर फिर उसके बाद बूंदी ग्रामीण में सिलोर विद्युत ग्रिड पर बिजली की नियमित आपूर्ति की मांग करते प्रदर्शनकारी किसानों पर दर्ज किए गए मुकदमे वापसी की मांग को लेकर भाजपाइयों ने बूंदी कलक्ट्रेट के बाहर प्रदर्शन किया। दोनों ही जगह लगातार मुकदमे दर्ज किए गए। वही गत दो दिन पहले शुक्रवार को पूरे प्रदेश में केंद्र की मोदी सरकार के विरुद्ध प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर राज्य में जिला मुख्यालय पर आयोजित हुए सभी जगह कलेक्ट्रेट पर धरने प्रदर्शन में प्रदेश सरकार ने प्रदेश में कही किसी भी जगह भी क्या कोविड गाइड लाइन के उलंघन की एफआईआर दर्ज करवाई हैं?
भाजपा नेता शर्मा ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि पहले प्रदेश सरकार यह स्पष्ट करें की क्या भाजपाइयों के ही धरना प्रदर्शन से कोरोना गाइड लाइन का उलंघन होता है और कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता उसी तरह धरना-प्रदर्शन करे तब क्यों नहीं? भाजपा नेता शर्मा ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं के विरुद्ध प्रदेश सरकार के इस मनमाने दमनात्मक रवैये की शिकायत केंद्र सरकार के गृहमंत्री को भिजवाई जाएगी।

Nagesh Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned