scriptBundi Congress news | Bundi Congress के पास नहीं दिसम्बर 2018 से जिलाध्यक्ष, अब आई अंदरखाने यह खबर | Patrika News

Bundi Congress के पास नहीं दिसम्बर 2018 से जिलाध्यक्ष, अब आई अंदरखाने यह खबर

ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी ने घोषित किए 13 नाम, बूंदी शामिल नहीं

बूंदी

Published: December 02, 2021 06:52:41 pm

बूंदी. प्रदेश के 13 जिलों में कांग्रेस के जिलाध्यक्ष की सूची ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी ने बुधवार शाम को जारी की, लेकिन इसमें बूंदी जिले को शामिल नहीं करने से यहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं में निराशा छा गई। इसे कांग्रेस में आपसी खींचतान मानें या फिर अच्छे वर्कर की तलाश, लेकिन जिले के कांग्रेस कार्यकर्ताओं को इस सूची में पार्टी का जिलाध्यक्ष मिलने की पूरी उम्मीद थी। जब शाम को सूची में शामिल 13 नामों में बूंदी दिखाई नहीं पड़ा तो कांग्रेसियों में निराशा दिखाई दी।
बूंदी में कांग्रेस के पास दिसम्बर 2018 से जिलाध्यक्ष नहीं। यानी इस दिसम्बर माह में तीन वर्ष हो गए, पार्टी को बिना जिलाध्यक्ष चलते। यहां विधानसभा चुनाव के दौरान बागी होकर केशवरायपाटन विधानसभा में पर्चा दाखिल करने पर तत्कालीन जिलाध्यक्ष सी.एल. प्रेमी को निष्कासित कर दिया था। कांग्रेस ने पहले प्रेमी को टिकट दिया था, फिर टिकट बदलकर राकेश बोयत को दिया। इससे नाराज प्रेमी पार्टी के जिलाध्यक्ष होने के बावजूद बागी हो गए थे। इसके बाद उन्हें कांग्रेस ने जिलाध्यक्ष पद से हटा दिया था। इसके बाद बूंदी कांग्रेस को नया जिलाध्यक्ष नहीं मिला। लंबी उठापटक के बाद अंदरखाने सूूची तैयार होकर हाईकमान की मंजूरी के लिए दिल्ली में होने की चर्चाएं थी।
कार्यकर्ताओं के अपने-अपने समर्थकों के जिलाध्यक्ष बनने के कयास लगाते हुए खुशी थी, लेकिन जब बुधवार देर शाम सूची में बूंदी जिला शामिल नहीं दिखा तो खुशियों पर पानी फिरता दिखा। हालांकि कांग्रेस के जानकार सूत्रों की माने तो शेष रहे जिलों में भी पार्टी के जिलाध्यक्ष जल्द घोषित होंगे।
Bundi Congress के पास नहीं दिसम्बर 2018 से जिलाध्यक्ष, अब आई अंदरखाने यह खबर
Bundi Congress के पास नहीं दिसम्बर 2018 से जिलाध्यक्ष, अब आई अंदरखाने यह खबर
दोनों नेताओं की सहमति से बनेगा
बूंदी में कांग्रेस का जिलाध्यक्ष राज्यमंत्री अशोक चांदना और कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष हरिमोहन शर्मा की सहमति से बनेगा बताया। बीते दिनों ठीकरदा गांव में मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के दौरे में दोनों नेताओं को साथ देखा गया। ऐसे में कयास लगाए जा रहे थे कि कांग्रेस जिलाध्यक्ष के लिए एक नाम पर जल्द सहमति बनेगी।
काम सब हो रहे, लेकिन धड़ों में बंटकर
कांग्रेस का जिलाध्यक्ष नहीं होने से यों तो पार्टी का कोई काम नहीं रुक रहा। लेकिन प्रदेश या फिर राष्ट्रीय स्तर से जो कार्यक्रम निर्धारित किए जा रहे उन्हें धड़ों में बंटकर कर रहे। चाहे धरना हों या फिर विरोध प्रदर्शन। कांग्रेस के उन्हें अलग-अलग शक्ति प्रदर्शन के रूप में करने से चर्चाएं रही। पंचायतीराज चुनाव में भी जिला परिषद सदस्यों के टिकट बंटवारे को लेकर गुटबाजी दिखी।
कांग्रेस के हर मंच पर उठ रही आवाज
पार्टी जिलाध्यक्ष की नियुक्ति की आवाज कार्यकर्ता हर मंच पर उठा रहे। यहां तक की पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के दौरों में भी कई बार जिलाध्यक्ष की नियुक्ति किए जाने की मांग रखी गई। जिस पर जल्द नियुक्ति का भरोसा ही मिल रहा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.