21 माह बाद खुला नामांतरण का लॉक

नैनवां तहसील में नामांतरण खोलने पर लम्बे समय से लगा लॉक बुधवार को खुल गया। तहसील कार्यालय ऑनलाइन नहीं होने से 21 माह से ही नामांतरण खोलने पर रोक लगा रखी थी। लम्बे समय के इंतजार के बाद 31 अप्रेल को तहसील का रिकॉर्ड ऑनलाइन होने के बाद प्रक्रिया शुरू हो पाई।

By: pankaj joshi

Published: 20 May 2021, 09:18 PM IST

21 माह बाद खुला नामांतरण का लॉक
5 अगस्त 2019 को लगाई रोक अब हटी
नैनवां. नैनवां तहसील में नामांतरण खोलने पर लम्बे समय से लगा लॉक बुधवार को खुल गया। तहसील कार्यालय ऑनलाइन नहीं होने से 21 माह से ही नामांतरण खोलने पर रोक लगा रखी थी। लम्बे समय के इंतजार के बाद 31 अप्रेल को तहसील का रिकॉर्ड ऑनलाइन होने के बाद प्रक्रिया शुरू हो पाई। तहसीलदार अमितेश मीणा ने तहसील कार्यालय में एलआरसी शाखा में दो पटवार मंडलों में नैनवां प्रथम व जरखोदा के नामांतरण खोलने की प्रक्रिया शुरू करवाई। पहले ही दिन दोनों पटवार मंडलों में रहन मुक्ति व रहन दर्ज के बीस-बीस नामांतरण खोले गए। नैनवां तहसील का राजस्व रिकॉर्ड ऑनलाइन करवाने के लिए जिला कलक्टर ने 5 अगस्त 2019 को नामांंतरण खोलने पर रोक लगा रखी थी। 21 माह तक ठहरे रहे नामांतरण के कार्य से नैनवां तहसील में पेंडिंग नामांतरणों की संख्या हजारों में पहुंच चुकी थी। नैनवां तहसील में आधे से ज्यादा पटवार मंडलों में पटवारियों के पद रिक्त पड़े होने से अभी जिन पटवार मंडलों में पटवारी नियुक्त है। ऐसे 23 पटवार मंडलों में ही नामांतरण खोलने की प्रक्रिया शुरू की गई है। इनमें भी पहले रहन मुक्ति व रहन दर्ज करने वाले नामांतरण ही खोले जाने है। अन्य प्रकार के नामांतरण उसके बाद खोले जाएंगे। अभी नैनवां व जरखोदा पटवार मंडल के अलावा सुवानिया, बंसोली, रजलावता, कैथूदा, बांसी, मोतीपुरा, गुढ़ासदावर्तिया, तलवास, नाहरगंज, फूलेता, सीसोला, कुम्हारिया, कालामाल, जैतपुर, समीधी, आंतरदा, मरां, गुढ़ादेवजी, खानपुरा, जजावर व बाछोला पटवार मंडलों में ही नामांतरण खोले जा सकेंगे।
28 पटवार मंडलों में नहीं है पटवारी
तहसील के 28 पटवार मंडल ऐसे हंै, जिनमें पटवारी नियुक्त नहीं है। यह पटवार मंडलों का दूसरे पटवारियों को अतिरिक्त चार्ज दे रखा हैै, लेकिन पटवारियों ने अतिरिक्त पटवार मंडलों के बस्तेे तहसील कार्यालय में जमा करा रखे हैं। दुगारी, डोकून, रेठोदा, देई, भजनेरी, सादेड़ा, बटावदी, मोड़सा, धानुगंाव, कोलाहेड़ा, खैरूणा, नैनवां द्वितीय, नीमखेड़ा, गंभीरा, पीपलया, लाम्बाबरडा, मोडसा, बालापुरा, खजूरी, माणी, करवर, खजूरा, सहण, बम्बूली, बामनगाांव, कोरमा, मानपुरा एवं डोडी पटवार मंडलों में पटवारी नियुक्त नहीं है। जिससे इन पटवार मंडलों में नामांतरण नही खोलने का कार्य आगामी आदेशों तक लॉक ही रहेगा।
तहसीलदार का कहना
तहसीलदार अमितेश मीणा ने बताया कि लम्बेे समय रुका नामांतरण का कार्य बुधवार से शुरू करवा दिया। पहले दिन नैनवां प्रथम व जरखोदा पटवार मंडलों में नामांतरण का कार्य शुरू करवाया है। जिन पटवार मंडलों में पटवारी नहीं उनमें नामांतरण खुलवाने को लेकर राज्य सरकार से मार्गदर्शन मांगा गया है।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned