33 मृत मुर्गे-मुर्गियों को दफनाया

बर्ड फ्लू की आशंका पर पशु पालन विभाग की टीम मंगलवार सुबह नोताड़ा क्षेत्र के रघुनाथपुरा गांव पहुंची। टीम यहां मरे मुर्गे-मुर्गियों के नमूने जांच के लिए लेकर गई है।

By: pankaj joshi

Published: 06 Jan 2021, 08:26 PM IST

33 मृत मुर्गे-मुर्गियों को दफनाया
पशु पालन विभाग की टीम रघुनाथपुरा गांव पहुंची
नोताडा (बूंदी). बर्ड फ्लू की आशंका पर पशु पालन विभाग की टीम मंगलवार सुबह नोताड़ा क्षेत्र के रघुनाथपुरा गांव पहुंची। टीम यहां मरे मुर्गे-मुर्गियों के नमूने जांच के लिए लेकर गई है। यहां ग्रामीणों को सोमवार को एक कौआ भी अचेत मिला था वहीं ओमप्रकाश मीणा के मुर्गी फार्म पर 15 मुर्गे, 25 मुर्गियां एवं 17 चूजों की मौत हुई थी। जिसकी ग्रामीणों को बर्ड फ्लू की आशंका थी। इस पर ग्रामीणों ने पशु पालन विभाग को इसकी सूचना दी तो मंगलवार को विभाग की टीम ने मंगलवार सुबह यहां पहुंचकर पहले से मृत 33 मुर्गो के शवों के जांच नमूने लिए व पोस्टमार्टम कर शवों को गड्ढे में दफना दिया। टीम ने पोल्ट्री फार्म पर जीवित सात मुर्गो व इनको डाले जा रहे दाने का भी सेम्पल लिया। इसके अलावा आसपास के फार्म कालबेलिया बस्ती व मीट शॉप की दुकानों से भी 32 पक्षियों के जांच नमूने ली।
चिकित्सा टीम में पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक कन्हैया लाल, जिला पशु रोग निदान केंद्र प्रभारी पंकज गुप्ता, वरिष्ठ पशु चिकित्सा अधिकारी राजीव सिन्हा, कौशल गुप्ता, पशुधन सहायक मुकेश मीणा, गोविन्द सैनी आदि शामिल थे। सरपंच रामदेव पहाडिया, ग्राम विकास अधिकारी नाथूलाल योगी, सहायक सचिव रामेश्वर बैरवा भी मौके पर मौजूद रहे।
पशु चिकित्सा टीम ने रघुनाथपुरा पहुंचकर ओमप्रकाश के मुर्गी फार्म का दौरा किया। जहां पर आज एक मुर्गी मृत मिली व सात मुर्गियां स्वस्थ थी। मृत पक्षी का पोस्टमार्टम करने पर संक्रमक रोग प्रकोप के कोई लक्षण नहीं पाए गए। फार्म के पास 33 मृत पक्षी पाए गए। जिनको दफनाकर निस्तारण कर दिया। टीम ने आसपास के 32 पक्षियों के नमूने लिए है। इसके साथ ही पक्षियों को खिलाए जा रहे दाने का सैंम्पल लिया गया।
डॉ. पंकज गुप्ता, प्रभारी, जिला पशुरोग निदान केन्द्र बून्दी

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned