कोरोना वायरस : अधिवक्ताओं का फूटा आक्रोश, कलक्ट्रेट परिसर में नहीं हो रही स्क्रीनिंग

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बावजूद कलक्ट्रेट परिसर में कोई इंतजाम नहीं होने से खफा वकीलों ने बुधवार को प्रवेश द्वार बंद कर दिए। लोगों को भीतर प्रवेश नहीं करने दिया।

By: Narendra Agarwal

Updated: 19 Mar 2020, 12:53 PM IST

बूंदी. कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बावजूद कलक्ट्रेट परिसर में कोई इंतजाम नहीं होने से खफा वकीलों ने बुधवार को प्रवेश द्वार बंद कर दिए। लोगों को भीतर प्रवेश नहीं करने दिया। बाद में प्रशासनिक अधिकारियों के जल्द ऐहतीयात के कदम उठाने का भरोसा देने पर एक गेट से प्रवेश शुरू हुआ।
बार एसोसिएशन के अध्यक्ष चंद्रशेखर शर्मा की अगुवाई में सुबह बड़ी संख्या में अधिवक्ता मुख्य गेट पर जमा हो गए। उन्होंने हाईकोर्ट के आदेश की खुलेआम अवहेलना करने, चिकित्सा विभाग के ध्यान नहीं देने का आरोप लगाया। अधिवक्ताओं ने कहा कि बैठक में तय किया गया था कि अदालत परिसर के अंदर चिकित्सा विभाग की एक तीन सदस्य की टीम रहेंगी जो अदालत परिसर में आने जाने वाले प्रत्येक व्यक्ति एवं वकीलों की जांच करेगी। जब सुबह दफ्तर खुलने लगे तो अधिवक्ताओं को मौके पर एक कम्पाउंडर टेंट के नीचे बैठा मिला। जिसके पास न तो जांच का कोई उपकरण था और न ही कोई मास्क। इस हाल को देखकर वकीलों का आक्रोश फूट पड़ा। उन्होंने दोनों प्रवेश द्वार बंद कर दिए। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया। सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सतनाम सिंह, पुलिस उप अधीक्षक मनोज कुमार शर्मा पहुंचे और वकीलों से समझाइश की। तब एक प्रवेश द्वार खोला गया।

एडीएम से मिला प्रतिनिधि मंडल
प्रदर्शन के बाद अधिवक्ताओं का एक प्रतिनिधि मंडल अतिरिक्त जिला कलक्टर अमानुल्लाह खान से मिला। यहां वकीलों ने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया। अधिवक्ताओं का कहना था कि कोरोना वायरस को देखते हुए वकीलों को मास्क मिलने चाहिए। चिकित्सा विभाग ने अब तक ऐसा कोई उपाय नहीं किया। एडीएम ने प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को सभी वकीलों को मास्क उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

हुई परेशानी तो दीवार फांदकर पहुंचे
प्रदर्शन के दौरान मुख्य द्वार बंद होने से कई लोगों को अदालत परिसर में जाने में परेशानी का सामना करना पड़ा। ऐसे में लोग दीवार फांदकर अंदर प्रवेश करते हुए नजर आए। बाद में कोतवाली पुलिस का जाब्ता अदालत परिसर के मुख्य गेट पर तैनात किया।

Show More
Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned