अंधड़ के बाद रात तक अंधेरे में डूबा रहा कस्बा,कच्चे पक्के मकान ढहे

कस्बे सहित क्षेत्र में बुधवार शाम को तेज धूल भरी हवा चलने और तेज अंधड़ आने से कई लोगों के कच्चे पक्के निर्माण ढह गए। पेड़ धराशायी होने और विद्युत लाइन पर गिरने से लाइन में फाल्ट आ गया।

By: pankaj joshi

Published: 16 Apr 2021, 09:56 PM IST

अंधड़ के बाद रात तक अंधेरे में डूबा रहा कस्बा,कच्चे पक्के मकान ढहे
कापरेन. कस्बे सहित क्षेत्र में बुधवार शाम को तेज धूल भरी हवा चलने और तेज अंधड़ आने से कई लोगों के कच्चे पक्के निर्माण ढह गए। पेड़ धराशायी होने और विद्युत लाइन पर गिरने से लाइन में फाल्ट आ गया। जिससे कस्बे सहित क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति रात साढ़े ग्यारह बजे तक बंद रही। बिजली गुल होने से गर्मी व मच्छरों से लोग बेहाल रहे। रात को 11.30 बजे आपूर्ति सुचारू होने पर राहत मिली। उधर अंधड़ के दौरान कई लोगों के मकान ढह गए, टीन छप्पर उड़ गए। कापरेन ग्रामीण महामंत्री जगदीश गोस्वामी ने बताया कि हिंगोनिया गांव निवासी पार्वतीबाई प्रजापत के पक्के मकान की दीवारें गिर गई। जानकी लाल मीणा के मकान की दो चद्दरें उड़ कर जानकी लाल व उसकी पत्नी कांति बाई पर गिरने से दोनों को चोट आ गई। जगदीश गोस्वामी ने बताया कि दोनों घायलों का कोटा में उपचार चल रहा हैं। प्रशासन को अवगत कराकर मदद की मांग की गई है। उधर कस्बे के राजाबाबू राठौर के मकान की दो चद्दर उड़ गई। आजन्दा निवासी जुगराज सिंह के खेत पर बने कमरे के 11 चद्दर उड़ गए।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned