रिहायशी क्षेत्रों से दूर स्थापित होंगे क्वारंटीन सेंटर, उपखण्ड अधिकारियों को सेंटर तैयार करने के निर्देश

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव, रोकथाम एवं संक्रमण की शृंखला तोडऩे के लिए इससे प्रभावित संदिग्ध लोगों के लिए क्वारंटीन सेंटरों की स्थापना की जाएगी।

By: pankaj joshi

Published: 18 Apr 2020, 06:10 PM IST

रिहायशी क्षेत्रों से दूर स्थापित होंगे क्वारंटीन सेंटर, उपखण्ड अधिकारियों को सेंटर तैयार करने के निर्देश
बूंदी. कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव, रोकथाम एवं संक्रमण की शृंखला तोडऩे के लिए इससे प्रभावित संदिग्ध लोगों के लिए क्वारंटीन सेंटरों की स्थापना की जाएगी। जिला कलक्टर अंतर सिंह नेहरा ने सभी उपखण्ड अधिकारियों को क्वारंटीन सेंटर तैयार करने के निर्देश दिए।
जिला कलक्टर ने बताया कि क्वारंटीन सुविधा शहर के रिहायशी क्षेत्रों से यथा संभव दूर स्थापित होंगी। इनमें सिक्योरिटी व सीसीटीवी निगरानी की व्यवस्था रहेगी। इन क्वारंटीन सेंटरों में प्राथमिकता के साथ व्यक्तिगत कमरों की व्यवस्था होगी और अलग-अलग शौचालयों की व्यवस्था होगी। साथ ही इनमें बेडशीट को नियमित रूप से बदलने की व्यवस्था होगी।
जिला कलक्टर ने बताया कि सेंटर को नियमित रूप से सोडियम हाइपोक्लोराइड सोल्युशन (1 प्रतिशत) से असंक्रमित किया जाएगा। क्वारंटीन सेंटर के कार्मिकों को कोविड-19 संक्रमण तथा नियंत्रण गतिविधियों जिसमें पीपीई किट, मास्क, दस्ताने आदि के विषय पर आमुखीकरण किया जाएगा। जिला कलक्टर ने बताया कि किसी भी संदिग्ध केस की क्वारंटीन की समयावधि 14 दिन होगी। क्वारंटीन सेंटरों में रखे गए ऐसे व्यक्तियों का 13वें दिन कोविड-19 की जांच के लिए नमूने लिए जाएंगेे। रिपोर्ट नकारात्मक आने पर उन्हें 14वें दिन डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned