आयुष नर्सेज ने काली पट्टी बांधकर जताया रोष

पदनाम परिवर्तन कर नर्सिंग ऑफिसर करने, नर्सेज का कैडर रिव्यू करने, ओपीडी समय बदलने तथा बेरोजगार नर्सेज को नियुक्ति देने की मांग को लेकर आयुष नर्सेज ने काली पट्टी बांधकर काम किया।

By: Narendra Agarwal

Published: 28 May 2021, 06:10 PM IST

बूंदी. पदनाम परिवर्तन कर नर्सिंग ऑफिसर करने, नर्सेज का कैडर रिव्यू करने, ओपीडी समय बदलने तथा बेरोजगार नर्सेज को नियुक्ति देने की मांग को लेकर आयुष नर्सेज ने काली पट्टी बांधकर काम किया।
आयुर्वेद नर्सेज महासंघ जिला महामंत्री रामप्रकाश वर्मा ने बताया कि एक घंटे का लन्च ब्रेक हटाने, 550 आयुर्वेद नर्सेज भर्ती का विज्ञापन जारी करने तथा वर्ष 2013 के वंचित 1005 आयुर्वेद नर्सेज को नियुक्ति देने की मांग रखी गई। जिला आयुर्वेदिक चिकित्सालय बूंदी के सभी नर्स कंपाउंडर, हीरालाल बैरवा, बालकृष्ण जोशी, शबनम परवीन, संतोष शर्मा, रमेशचंद गौतम, तेजमल प्रजापत, संजय शर्मा ने अपने कार्य स्थल पर कार्य करते हुए काली पट्टी बांधी। महासंघ के जिलाध्यक्ष विशाल शर्मा ने बताया कि 25 मई को महासंघ के आह्वान पर सामूहिक भूखहड़ताल करेंगे।

ड्यूटी के बाद मरीजों की सेवा में जुट रहे प्रतीक
बूंदी. जिला अस्पताल में संविदा कर्मचारी 24 घंटे अपने ड्यूटी के अलावा सेवाभावी कार्य में जुट रहे। सामान्य चिकित्सायल में कोविड-19 ड्यूटी दे रहे संविदा कर्मी प्रतीक विजयवर्गीय अपनी नियमित ड्यूटी के बाद भी भर्ती मरीजों के बेड तक खाने के पैकेट्स व पानी पहुंचा रहे। प्रतीक लगातार सेवा में जुटे दिखाई पड़ रहे। वह यहां साफ-सफाई का ध्यान रखते हुए मरीजों का हौसला भी बढ़ा रहे।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned