बूंदी जिला कारागृह में शुरू हुई ई-मुलाकात, घर बैठ परिजनों से जेल में बंदी कर सकेंगे वीडियो कॉल

परिजन अब घर बैठे बंदी परिजन से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से ही मिल सकेंगे।जी हां! यह ई-मुलाकात के जरिए सम्भव होगा। कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को ध्यान में रखकर यह निर्णय किया गया। इसे बूंदी जिला कारागृह में लागू कर दिया।

By: pankaj joshi

Published: 11 Apr 2020, 06:36 PM IST

बूंदी जिला कारागृह में शुरू हुई ई-मुलाकात, घर बैठ परिजनों से जेल में बंदी कर सकेंगे वीडियो कॉल
- सोशल डिस्टेंस की पालना में निर्णय
बूंदी.हिण्डोली.परिजन अब घर बैठे बंदी परिजन से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से ही मिल सकेंगे।जी हां! यह ई-मुलाकात के जरिए सम्भव होगा। कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को ध्यान में रखकर यह निर्णय किया गया। इसे बूंदी जिला कारागृह में लागू कर दिया। इसमें प्रत्यक्ष व ई-मुलाकात दोनों होंगे, लेकिन संक्रमण के खतरे को देखते हुए फिलहाल ई-मुलाकात का विकल्प रखा गया। इससे सोशल डिस्टेंस बनी रहेगी।जेल प्रशासन के अनुसार तीन माह की कड़ी मेहनत के बाद ई- मुलाकात का डाटा तैयार करते हुए सॉफ्टवेयर बनाया गया। परिजन को ऑनलाइन आवेदन के बाद मेल से समय और ओटीपी से नियत समय पर लिंक खोलकर ओटीपी व नाम डालने पर ई- मुलाकात शुरू हो जाएगी।
5 मिनट की बात
जेल उपअधीक्षक ने बताया कि राजस्थान कारागार विभाग का ई- मुलाकात प्रोजेक्ट जेल सुरक्षा में मील का पत्थर साबित होगा। इस नई व्यवस्था के तहत मुलाकाती जेल में बंदी से वीडियो कॉल के जरिए बंदी परिजन से 5 मिनट बात कर सकेगा। इस दौरान दोनों एक-दूसरे का चेहरा देख सकेंगे। इसके लिए उन्हें समय और टोकन दिया जाएगा।
यों होगी मुलाकात और कॉल कनेक्ट
ई-मुलाकात के लिए परिजन को httpÑ // eprisons.nic.in / pulic / my visit Registration. aspx साइट पर जाना होगा। यहां खुली विंडो पर ई-मुलाकात फॉर्म भरना होगा। इसमें फॉर्म ‘ए’ पर स्वयं की ओर ‘ब’ पर बंदी की जानकारी देनी होगी। उसके बाद ई-मेल पर एक लिंक और एक पिन नंबर आएगा। लिंक को क्लिक करके डाउनलोड करना होगा। इसके लिए जेल अधीक्षक से स्वीकृति लेनी होगी। ई-मेल से मिलने वाले समय पर ओटीपी (पिन) डालने पर जेल से वीडियो कॉल कनेक्ट हो जाएगी।
‘केंद्रीय कारागृहों की तर्ज पर जिला कारागृहों में भी ई-मुलाकात शुरू होगी। जिसके माध्यम से परिजन घर बैठे बंदी से वीडियो कॉल के जरिए 5 मिनट बात कर सकेगा। बूंदी जिला कारागृह में यह व्यवस्था शुरू कर दी।’
लोकोज्जवल सिंह
जेल उप अधीक्षक, जिला कारागृह, बूंदी

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned