नैनवां में जुलूस के लिए रास्ता बहाल नहीं कराने से जैन समाज में रोष, मौन जुलूस निकालकर धरने पर बैठे

pankaj joshi | Updated: 13 Sep 2019, 09:26:08 PM (IST) Bundi, Bundi, Rajasthan, India

पर्युषण पर्व के समापन के दिन जैन समाज के जुलूस के लिए पुलिस व प्रशासन द्वारा रास्ता बहाल नहीं कराने के विरोध में नैनवां सकल दिगम्बर जैन समाज ने शुक्रवार को अपने प्रतिष्ठान बंद रखकर मौन जुलूस निकाला।

नैनवां. पर्युषण पर्व के समापन के दिन जैन समाज के जुलूस के लिए पुलिस व प्रशासन द्वारा रास्ता बहाल नहीं कराने के विरोध में नैनवां सकल दिगम्बर जैन समाज ने शुक्रवार को अपने प्रतिष्ठान बंद रखकर मौन जुलूस निकाला। वह एसडीएम कार्यालय पर अनिश्चितकालीन धरना देकर बैठ गए। धरने में महिला, पुरुष व बच्चे शामिल रहे। समाज के लोगों ने रास्ता बहाल कराने में विफल रहे नैनवां के उपखंड अधिकारी, पुलिस उपाधीक्षक व थानाधिकारी के विरुद्ध कार्रवाई करने व उन्हें नैनवां से हटाने की मांग की। यहां धरना स्थल पर णमोकार मंत्र का जाप शुरू कर दिया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार जैन समाज ने कहा कि शांति समिति व सीएलजी सदस्यों की बैठक के निर्णयानुसार शाम पांच बजे पर्युषण पर्व के समापन पर जैन समाज के जुलूस के लिए रास्ता बहाल कराना था। जिसमें अधिकारी विफल रहे। जिसके विरोध में जैन समाज के महिला, पुरुष व बच्चों का सुबह 11 बजे लोहड़ी चौहटी स्थित कोटिया जैन मन्दिर से मौन जुलूस शुरू हुआ जो शहर के प्रमुख मार्गों से होता हुआ 12 बजे उपखंड अधिकारी कार्यालय पर पहुंचा। जिला स्तरीय कोई भी अधिकारी ज्ञापन लेने नहीं पहुंचा तो मौन जुलूस धरने में परिवर्तित हो गया। वह उपखंड अधिकारी कार्यालय में धरने पर बैठ गए। ज्ञापन लेने के लिए जिला कलक्टर व एसपी को बुलाने की मांग करने लगे। धरना स्थल पर हुई सभा को पूर्व पालिकाध्यक्ष प्रमोद जैन, पुखराज ओसवाल, देवेन्द्र जैन, पूर्व विधायक सूर्यकुमार जैन, बाबूलाल जैन, महावीर सरावगी, राजेश मित्तल, विकास मोडिका, अनिल मित्तल, पार्षद अक्षिता मोडिका व मोनिका मारवाड़ा ने सम्बोधित किया। वक्ताओं ने कहा कि तीन सौ वर्षों से जैन समाज का जुलूस निकलता आ रहा था, लेकिन प्रशासनिक अधिकारियों ने रास्ता बहाल नहीं कराने से समाज की यह परम्परा टूट गई। शांति समिति व सीएलजी सदस्यों की बैठक के निर्णयानुसार शाम पांच बजे जुलूस के लिए पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को रास्ता बहाल कराना था।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned