कृषि बिल के नाम पर किसानों के अधिकारों का हनन किया

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से कृषि बिल के विरोध में हस्ताक्षर अभियान के बूंदी जिला प्रभारी रामविलास चौधरी व अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य एवं पूर्व मंत्री हरिमोहन शर्मा ने मंगलवार को जिले में हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत की।

By: Narendra Agarwal

Published: 28 Oct 2020, 12:55 PM IST

बूंदी. राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से कृषि बिल के विरोध में हस्ताक्षर अभियान के बूंदी जिला प्रभारी रामविलास चौधरी व अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य एवं पूर्व मंत्री हरिमोहन शर्मा ने मंगलवार को जिले में हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत की।
कांग्रेस नेताओं की उपस्थिति में बूंदी कृषि उपज मंडी में बड़ी संख्या में किसानों ने कृषि बिल के विरोध में हस्ताक्षर किए। जिला प्रभारी चौधरी व पूर्व मंत्री शर्मा ने किसान प्रतिनिधि मंडलों से मिलकर उनके अभाव अभियोग सुने। बूंदी ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के तत्वावधान में सर्किट हाउस में पहुंचे किसानों ने भी बिल के विरोध में हस्ताक्षर किए। इस मौके पर आढ़तिया संघ के अध्यक्ष हनुमान माहेश्वरी ने कहा कि बिल के माध्यम से सरकार मंडी व्यवस्था को खत्म करने पर तुल गई। अरबन बैंक के अध्यक्ष सत्येश शर्मा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ही किसानों के हित में कार्य कर रही। जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्व उपाध्यक्ष चर्मेश शर्मा, कांग्रेस नेता राजकुमार माथुर, टीकम जैन, आढ़तिया संघ उपाध्यक्ष रोहित झालानी व सचिव नीरज अग्रवाल आदि मौजूद थे।
तालेड़ा. केंद्र सरकार द्वारा पारित कृषि बिल के विरोध में मंगलवार को तालेड़ा में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी की ओर से आयोजित किसान सम्मेलन में बड़ी संख्या में उमड़े किसानों ने कृषि बिल के विरोध में संघर्ष का संकल्प लिया। प्रदेश कांग्रेस की ओर से कृषि बिल के विरोध में अभियान के जिला प्रभारी रामविलास चौधरी व पूर्व मंत्री हरिमोहन शर्मा ने तालेड़ा ब्लॉक में हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत की। केशवरायपाटन रोड पर आयोजित किसान सम्मेलन को संबोधित किया। अरबन बैंक के चेयरमैन सत्येश शर्मा, तालेड़ा ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष जगरूप सिंह रंधावा, निवर्तमान प्रधान मोहनलाल गुर्जर, जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्व उपाध्यक्ष चर्मेश शर्मा आदि ने विचार रखे। इस दौरान किसान सम्मेलन में उपप्रधान अमित शर्मा रघु, कांग्रेस नेता प्रेमशंकर राठौर, जियाउद्दीन खिलजी, चंद्रप्रकाश दाधीच, आशु गुर्जर आदि मौजूद थे।
केशवरायपाटन. पीपल्दा विधायक रामनारायण मीणा ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से संसद में पास किया गया किसान विरोधी काला बिल किसानों को बर्बाद कर धन्ना सेठों का आबाद करेगा। मीणा ने केंद्र सरकार से इस बिल को वापस लेने की मांग की। मीणा मंगलवार को आडा गेला के हनुमान मंदिर परिसर में राजीव गांधी पंचायती राज की ओर से आयोजित किसान सम्मेलन में किसानों को संबोधित कर रहे थे।
मीणा ने कहा कि किसानों के हित में राज्य सरकार इस बिल के विरोध में अलग से बिल आने का विचार कर रही है। सम्मेलन में पूर्व विधायक घासीलाल मेघवाल, पूर्व प्रधान अमृत लाल गुर्जर, सर्वजीत सिंह, मुकेश चंदेल, मूलचंद गौतम, ओम भेत्या, राजपाल शर्मा ने भाग लिया। इससे पहले मीणा का सरकारी चीनी मिल चौराहे पर सर्वजीत सिंह के नेतृत्व में स्वागत किया।

Congress
Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned